जल्द ही ये दो बड़े राजपूत नेता होंगे राजद में शामिल, उड़ जाएगी भाजपा जदयू की नींद

0
4735

एक बड़ी खबर आ रही है. सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक बिहार के दो दिग्गज राजपूत नेता जल्द ही लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल का रुख कर सकते हैं. इनका नाम सार्वजनिक करने से पहले हम आपको यह बता दें कि ये दोनों ही नेता अपने अपने क्षेत्रों में ही नहीं बल्कि पूरे बिहार में न सिर्फ लोकप्रिय है बल्कि अपना मजबूत आधार भी रखते हैं.

रामा सिंह वैशाली के लिए इमेज नतीजे

इनमें से पहला नाम है बांका की पूर्व सांसद पुतुल सिंह. पुतुल सिंह, पूर्व समाजवादी नेता दिग्विजय सिंह की पत्नी हैं. मध्य प्रदेश वाले दिग्विजय सिंह नहीं बल्कि बिहार वाले दिग्विजय सिंह. नीतीश कुमार के साथ उनका बराबर 36 का आंकड़ा रहता था.

putul singh के लिए इमेज नतीजे

 

एक बार नीतीश कुमार ने दिग्विजय सिंह का टिकट काट दिया था, तो उस दौर में भी उन्होंने बांका लोकसभा क्षेत्र से ही निर्दल चुनाव जीत कर सभी चुनावी पंडितों को हैरत में डाल दिया था. अब खबर आ रही है कि जल्द ही पटना के ज्ञान भवन में राजपूतों का एक सम्मेलन बुलाकर पुतुल सिंह राष्ट्रीय जनता दल का लालटेन पकड़ सकती हैं.

former bjp mp putul singh
राजद में शामिल होने वालों में जो दूसरा नाम सामने आ रहा है, वो है वैशाली के पूर्व सांसद रामकिशोर सिंह उर्फ रामा सिंह. रामा सिंह ने 2014 के लोकसभा चुनाव में रामविलास पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी के टिकट पर राजद के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रो रघुवंश प्रसाद सिंह को चित्त कर दिया था. रामा सिंह भी बिहार में राजपूतों के कद्दावर नेता माने जाते हैं. बिहार के हर जिले में रामा सिंह के समर्थक बड़ी संख्या में मौजूद हैं. रामा सिंह ने पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान ही लोजपा नेतृत्व के विरुद्ध बगावत का बिगुल फूंक दिया था. अब जानकारी मिल रही है कि रामा सिंह जल्द ही राजद में शामिल होने जा रहे हैं.

रामा सिंह वैशाली के लिए इमेज नतीजे

इन दोनों नेताओं का अगर वाकई में राजद में मिलन हो जाता है तो यह निश्चित तौर पर भाजपा और जदयू के लिए परेशानी पैदा करने वाला होगा क्योंकि राजद ने अभी हाल में ही बड़े राजपूत नेता जगदानंद सिंह को अपना प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है, बड़े पैमाने पर इसका प्रभाव बिहार के हर इलाके में देखने को मिल रहा है.

बिहार में करीब 6 प्रतिशत राजपूत वोटर हैं. अब तक ये वोट एकमुश्त एनडीए को जाता था लेकिन राजद ने जबर्दस्त तरीके से इस वोट को साधने के लिए बैटिंग शुरु कर दी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here