नीतीश कुमार को बेपरवाह स्वास्थ्य मंत्री से इस्तीफा लेने की हैसियत नहीं !

0
589

बिहार के मुजफ्फरपुर सहित अन्य जिलों में ‘चमकी बुखार’ से हुए मौत के मामले में स्वास्थ्य विभाग के लापरवाही का आरोप लगाते हुए आरजेडी सहित अन्य विपक्षी दलों द्वारा बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे से इस्तीफा मांगा जा रहा है।

बिहार विधानसभा के मानसून सत्र में भी AES को लेकर विपक्षी दलों द्वारा सत्ता पक्ष का जमकर विरोध किया जा रहा है। विरोध के कारण सदन को 4 दिनों में कई बार स्थगित करना पड़ा है।

अमंगल स्वास्थ्य मंत्री इस्तीफा दें :

 

वहीं इस मामले में राष्ट्रीय जनता दल के टि्वटर हैंडल से ट्वीट कर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे को अमंगल स्वास्थ्य मंत्री कहा गया है। आरजेडी के ट्वीट में लिखा है कि ” नौटंकी बंद करो अमंगल स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय। बच्चे मर रहे थे तब आप क्रिकेट मैच का स्कोर पूछ रहे थे। आप जैसे नकारा मंत्री उन मासूमों की किस्मत को दोष दे रहे थे। कितने असंवेदनशील व्यक्ति है जी आप। शर्म करो और इस्तीफा दो। ”

सदन में मंगल पांडे के पक्ष रखते समय विपक्षी दलों ने किया हंगामा :

 

आपको बता दें कि जब मंगल पांडे AES को लेकर सदन में अपना पक्ष रख रहे थे, तो उस दौरान भी विपक्षी दलों द्वारा जमकर विरोध किया गया। वहीं सदन के बाहर भी बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी सरकार के विरोध में मोर्चा खोले हुए हैं। राबड़ी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार पूरी तरह से फेल हो चुकी है। सरकार के मंत्री व नेता अपने-अपने स्वार्थ में लीन है। आम खाने में सभी मशगूल हैं और राज्य की जनता भगवान के भरोसे हैं। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी नेताओं को राज्य की जनता से केवल वोट चाहिए।

आरजेडी ने एक और ट्वीट में सीएम नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए कहा है कि –

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here