हाथ में बेलन-कड़ाही लिए राजद कार्यकर्ता उतरे पटना की सड़को पर

0
490

नया साल शुरू होते ही नयी राजनितिक गतिविधियाँ और राजनीतिक दलों के बीच एक दुसरे के लिए चल रहा विरोधाभास भी सामने आने लगा है. इसी क्रम में राजद(RJD) के युवा नेताओ और कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार(Central Government) द्वारा रसोई गैस, रेल किराया में बढौतरी करने के फैसले को वापस लेने की मांग को लेकर पटना ही सड़को पर अनोखा प्रदर्शन किया है. इतना ही नहीं इस अनोखे अंदाज़ के साथ साथ राजद के इन युवा कार्यकर्ताओं ने प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी(Narendra Modi) के पुतले को भी फूंक दिया है.

दरअसल बढती महंगाई के मुद्दे को लेकर राजद(RJD) के युवा कार्यकर्ताओं के ये मोर्चा खोला है. जिसमे उनके निशाने पर केंद्र की मोदी सरकार(Modi Government) और राज्य की नीतीश(Nitish Kumar) सरकार रही. जिनके खिलाफ सड़क पर उतरे इन सभी युवाओं ने जम कर नारेबाजी की. केंद्र सरकार(Central Government) पर अपने फैसलों को वापस लेने के लिए दबाव बनाते इन युवा कार्यकर्ताओं का कुछ अनोखा अंदाज़ पटना की सड़को पर दिखा. जहाँ ये सभी युवा हाथ में बेलनकड़ाही छुलनी लेकर अपनी मांग कर रहे थे. इतना ही नहीं इन कार्यकर्ताओं में कुछ ऐसे भी थे जिन्होंने प्याज की मालाएं पहनी थी और सिर पर गैस सिलिंडर रखकर प्रदर्शन का हिस्सा बने हुए थे.

जब एक मीडिया कर्मी ने पटना जिला के युवा राजद(RJD)अध्यक्ष से इस अनोखे प्रदर्शन के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि साल 2019 से लेकर वर्तमान समय तक दर्जनों बार पेट्रोलडीज़ल और गैस सिलिंडर के दामों में बढौतरी की गयी है. जिससे की सबसे ज्यादा नुकसान देश की जनता को उठाना पड़ा है. साफ़ तौर पर केंद्र सरकार पेट्रोलियम कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए इनके दामो में इजाफा कर रही है.

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दे इन युवा कार्यकर्ताओं ने अपनी मांग को लेकर पटना के मुख्य चौराहे पर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. इतना ही नहीं बारबार ये सभी कार्यकर्ता केंद्र सरकार पर इन फैसलों को वापस लेने की मांग भी करते दिखे.

दरअसल नए साल के पहले दिन ही केन्द्र सरकार(Central Government) ने घरेलु गैस के दाम में इजाफा करने का एलान किया था. उतने पर भी किसी ने कोई सवाल खड़ा नही किया था. मगर उसके बाद अगले ही दिन केंद्र सरकार ने रेलवे के टिकेट के दाम में भी बढौतरी कर दी. ऐसे में प्याज और हरी सब्जियों के बढ़ते दाम ने लोगो के रसोई घर का बजट वैसे ही बिगड़ रखा था अब रसोई गैस की कीमत में की गयी बढौतरी ने जले पर नमक छिड़कने का काम किया है. वहीं इसके उलट सरकार यह कह रही है सरकारी तेल एवम गैस कंपनियों ने घरेलु के साथ साथ कमर्शियल गैस(Commercial Gas) के भी दामो को बढ़ा दिया है इसीलिए हमे भी गैस के दाम में इजाफा करना पड़ा है.

वहीं अगर रेलवे की बात करे तो रेलवे(Railway) ने प्रति किलोमीटर के हिसाब से जनरल डिब्बों में 1 पैसा स्लीपर में 2 पैसा और AC के किराए में 3 पैसे का इजाफा किया है. जिसकी वजह से रेलवे की किराय में भी बढौतरी की गयी है. जो कि 1 जनवरी से सभी रेल की टिकटों के लिए प्रभावी हो चुकी है. कारण चाहे जो भी हो, मगर हर बार आम नागरिक ही सरकार के इन फैसलों का शिकार बनता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here