सचिन तेंदुलकर : रोहित-द्रविड़ की जोड़ी शानदार, पीछे काफी लोग खड़े हैं

0
747

पिछले एक महीने से भारतीय क्रिकेट में बहुत चीजें घटी हैं, जिसकी वजह से वो काफी सुर्ख़ियों में है. आए दिन रोज कोई न कोई एक्सपर्ट, पूर्व क्रिकेटर और फैंस अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. यह सब शुरू हुआ था विराट कोहली के टी-20आई कप्तानी छोड़ने के बाद से. पिछले साल सितंबर में विराट कोहली ने टी-20 आई कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया. उसके बाद टी-20 वर्ल्ड कप खेला गया, इसमें आखिरी बार कोहली ने टी-20 आई कप्तानी की.

टूर्नामेंट के खत्म होने के बाद भारतीय टीम मैनेजमेंट ने रोहित शर्मा को भारत का नया टी-20 आई कप्तान घोषित कर दिया. लेकिन भारतीय टीम मैनेजमेंट ने इसके कुछ ही दिनों के बाद कोहली को वनडे टीम की कप्तानी से हटाकर रोहित को ही वनडे टीम का कप्तान नियुक्त कर दिया. बीसीसीआई ने दलील दी कि वो सीमित ओवरों में 2 अलग-अलग कप्तान नहीं रख सकते. कोहली सिर्फ रेड बॉल यानी टेस्ट क्रिकेट में कप्तान बने रहे. फिर दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले विराट कोहली ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सबको चौंका दिया. कोहली ने सीधे-सीधे बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली पर निशाना साध दिया.

कोहली ने कहा कि जब वो कप्तानी छोड़ रहे थे तो किसी ने कोई अप्पति नहीं जताई थी और वनडे की कप्तानी से हटाने से पहले उन्हें कोई सूचना नहीं दी गई थी. उन्हें डेढ़ घंटे पहले इस बात की जानकारी मिली. जबकि गांगुली ने कहा था कि टी-20 आई की कप्तानी छोड़ने से पहले उन्होंने व्यक्तिगत तौर पर कोहली से बात की थी और उन्हें ऐसा न करने की सलाह दी थी. कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में गांगुली की उन बातों को झूठा साबित करना चाहा.

अब विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी से भी इस्तीफा दे दिया यानी अब वो बतौर बल्लेबाज टीम में खेलेंगे. अभी कुछ ही दिनों पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज हारने के बाद कोहली ने टेस्ट कप्तानी भी छोड़ दी. बीसीसीआई जल्द ही भारत के नए टेस्ट कप्तान की घोषणा कर सकती है. टीम इंडिया के सीमित ओवरों के कप्तान रोहित शर्मा का नाम ही रेस में सबसे आगे है. बीसीसीआई फिलहाल रोहित को ही तीनों फॉर्मेट में कप्तान देखना चाहती है लेकिन रोहित के साथ फिटनेस की समस्या रहती है. दक्षिण अफ्रीका दौरे पर चोट की ही वजह से रोहित नहीं गए थे. ऐसे में रेस में और भी लोगों के नाम हैं. केएल राहुल, ऋषभ पंत के अलावा जसप्रीत बुमराह और रविचंद्रन अश्विन के नाम की भी चर्चा है. लेकिन रोहित को बीसीसीआई का समर्थन प्राप्त है. और अब महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भी रोहित और द्रविड़ के पक्ष में बयान दिया है.

बैकस्टेज विथ बोरिया शो में बोरिया मजूमदार को दिए इंटरव्यू में सचिन ने कहा, “रोहित और राहुल की जोड़ी बहुत ही शानदार है. मुझे इस बात पर पूरा भरोसा है कि यह दोनों ही अपना सर्वश्रेष्ठ देंगे और अपनी काबिलियत की पूरी ताकत के साथ तैयार होंगे. आपके पीछे काफी सारे लोग समर्थन में खड़े हैं. इस समर्थन का सही वक्त पर होना काफी ज्यादा मायने रखता है.”

आगे दिग्गज बल्लेबाज ने कहा,  “इसमें कोई शक ही नहीं कि सभी ने काफी सारी क्रिकेट खेली है. राहुल ने काफी क्रिकेट खेली है और उनके इस चीज की अच्छे से समझ है कि सफर के दौरान काफी उतार और चढ़ाव आने वाले हैं. किसी एक चीज के हो जाने से उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए. हमें लगातार कोशिश करते रहना चाहिए और हम ऐसे ही आगे बढ़ते जाएंगे.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here