Breaking News : सचिन पायलट ने लगाया भाजपा को चूना, राहुल, प्रियंका से मुलाकात

राजस्थान के सियासी संकट का हल निकलता हुआ दिखाई दे रहा है. कांग्रेस के बागी नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने आज पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात की. राहुल, प्रिंयका ने इस मुलाकात ने पायलट को आश्वासन दिया है कि आपके साथ किसी भी तरह की कोई नाइंसाफी नहीं होने दी जाएगी. अब इस मुलाकात के साथ ही राजस्थान सरकार पर संकट के बादल दूर होने के संकेत मिलने लगा है. वहीं इस मुलाकात के साथ ही भाजपा के अरमानों पर पानी फिर गया है. भाजपा को उम्मीद थी कि वो मध्यप्रदेश की तरह राजस्थान में भी कांग्रेस की सरकार गिरा कर अपनी सरकार बना लेगी लेकिन अब ऐसा होता हुआ नजर नहीं आ रह है.

Rahul Gandhi keen on giving Sachin Pilot another chance to 'come ...

पार्टी नेतृत्व ने दिया भरोसा

बताया जा रहा है कि सचिन पायलट और राहुल प्रियंका की मुलाकात बेहद सकारात्मक रही है. माना जा सकता है कि कांग्रेस सचिन पायलट को मनाने में कामयाब हुई है. वहीं सचिन पायलट की कांग्रेस में वापसी के बाद अशोक गहलोत सरकार पर से खतरा तो टलेगा ही साथ ही साथ फ्लोर टेस्ट की आवश्यक्ता भी नहीं पड़ेगी. सूत्रों की मानें तो अब राजस्थान में मतभेद खत्म कर गहलोत और पायलट को मिलकर प्रदेश में कांग्रेस को मजबूत करने पर सहमति बन गई है.

सिंधिया के रास्ते से किया किनारा

सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया दोस्त माने जाते हैं लेकिन सचिन पायलट ने सिंधिया के रास्ते पर चलने से किनारा किया. पायलट ने भले ही बगावत का रास्ता अख्तियार किया था लेकिन कभी भी कांग्रेस छोड़ कर जाने की बात नहीं की. पायलट ने अशोक गहलोत पर सवाल जरुर खड़े किए लेकिन कभी भी कांग्रेस हाईकमान पर निशाना नहीं साधा. पायलट को यह बात भलीभांति पता है कि वो भाजपा में जाकर भले ही कुछ समय के लिए लाभ का पद प्राप्त कर लें लेकिन जो प्रतिष्ठा उन्होंने कांग्रेस में अर्जित की है या जो उनका कद कांग्रेस में है, वो कभी भी भाजपा में उन्हें नहीं मिलने वाला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here