SBI के इस नियम में बदलाव होने से इतने ग्राहकों को होगा फायदा

0
756

देश के सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक SBI के ग्राहकों के लिए अच्छी खबर है। एक जुलाई से SBI अपने नियम में बड़ा परिवर्तन करने जा रहा है। SBI एक इस परिवर्तन से बैंक के 42 करोड़ ग्राहकों को तत्काल लाभ मिलेगा। दरअसल बैंक प्रबंधन ने ये घोषणा किया है कि जुलाई से होम लोन की ब्याज दरों को रेपो रेट से जोड़ देगा। शुक्रवार शाम को बैंक ने जारी किये हुए एक बयान में बताया कि हम 1 जुलाई से रेपो रेट से जुड़े होम लोन ऑफर करेंगे, यानि इस माह के बाद से पूरी तरह रेपो रेट पर SBI के होम लोन की ब्याज दर आधारित हो जाएगी। इस परिवर्तन का सीधा असर SBI के करोडो ग्राहकों पर पड़ने वाला है।

भारतीय स्टेट बैंक के तरफ से बोला गया है कि 1 जुलाई से जुड़े हुए रेपो रेट ग्राहकों को ऑफर किये जाएंगे। इसका अर्थ ये हुआ कि अगले माह से SBI की होम लोन की ब्याज दर पूरी तरह से रेपो रेट पर आधारित हो जायेगी। साफ़ शब्दों में इसे कहें तो रिज़र्व बैंक जब भी रेपो रेट में परिवर्तन करेगा उसी आधार पर SBI की होम ;लोन की ब्याज दर भी निश्चित होगी। गौरतलब है कि वर्ष में 6 दफा यानि हर दो माह पर अपने मौद्रिक नीति की RBI समीक्षा करता है तथा इसमें निश्चित होता है कि रेपो रेट में परिवर्तन करेगा या नहीं करेगा।

आपको बता दें कि RBI ने पिछले दिनों लगातार तीसरी दफा अपनी रेपो रेट में 0.25 प्रतिशत की कटौती कर इसे 5.75 पर ला दिया है। तीन समीक्षा बैठकों में कुल मिलाकर रेपो रेट में 0.75 प्रतिशत की कटौती रिजर्व बैंक कर चूका है। वाणिज्यिक बैंकों के लिए रेपो रेट कम होने पर धन सस्ता होता है तथा वो ब्याज कम होने के हालत में होते हैं। इससे पहले रेपो रेट में कटौती का लाभ तुरंत ग्राहकों तक पहुँचाने के लिए SBI ने जमा और कर्ज को सीधे रेपो रेट से जोड़ दिया है। ऐसा करने वाला SBI देश का पहला बैंक भी बन गया है। वैसे इस कदम का लाभ उन्हीं ग्राहकों को होगा जिनके खाते में 1 लाख रूपए से ज्यादा रकम होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here