कोरोना का कहर: बिना परीक्षा के अगली कक्षाओं में जा सकते हैं विद्द्यार्थी

0
534

कोरोना वायरस के फैलने के वजह से बिहार सरकार हर ठोस कदम उठाकर बिहार की जनता को सुरक्षित करने के लिए आवश्यक प्रयास कर रही है. बिहार में स्कूल, कॉलेज, कोचिंग संस्थान सिनेमा घर और पब्लिक प्लेस को बंद किये जाने का निर्देश दिया गया है.

स्कूलों में वार्षिक परीक्षा लिए जाने का समय चल रहा था लेकिन इसे तत्काल ही रोक दिया गया है. अभी-अभी सीबीएसई बोर्ड ने विद्द्यार्थियों के शैक्षिक सत्र को नियमित बनाये रखने के लिए बीना परीक्षा लिए ही उन्हें प्रमोट किये जाने का निर्णय लिया है. इसी तर्ज पर बिहार सरकार ने भी शैक्षिक सत्र को नियमित बनाये जाने के लिए बिना परीक्षा लिए ही उन्हें प्रमोट करने का निर्णय ले चुकी है.

मंगलवार को शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आर के महाजन ने कहा कि विभाग यह विचार करेगा कि कैसे बिना मूल्यांकन विद्यार्थियों को अगली कक्षा में भेजा जाये। स्थिति सामान्य होते ही पुनः इसपर निर्णय लिया जायेगा।

वहीँ उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश यह होगी कि हर हाल में बच्चों का शैक्षिक सत्र नियमित रहे और उन्हें किसी तरह का नुकसान उठाना नहीं पड़े। बता दें कि अप्रैल से नया शैक्षिक सत्र होने वाला था. उन्होंने इस सम्बन्ध में कहा है कि पढ़ाई की जो क्षति हुई है, उसे पूरा किये जाने की कोशिश की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here