JDU से निकाले जाने पर बोले श्याम रजक, कहा जहां सामाजिक न्याय की हत्या होती है वहां मैं नहीं रह सकता

0
144

बिहार सरकार में जदयू के मंत्री श्याम रजक को पार्टी से निकाले जाने के बाद उनकी पहली बार प्रतिक्रिया सामने आई है. उन्होंने कहा है कि मैं विधानसबा अध्यक्ष के समक्ष अपना इस्तीफा पत्र देने जा रहा हूं. रात में मैंने चंद्रशेखर जी की जेल यात्रा जाने वाली किताब को पढ़ा है. जिस जगह पर सामाजिक न्याय की हत्या हो मैं वहां नहीं रह सकता हूं. रजक ने यह भी कहा कि मुझे जिस तरीके से पार्टी से निकाला गया है वह असंबैधानिक है.

सोमवार को श्याम रजक के आवास पर राजद नेता और कार्यकर्ता उनके आवास पर पहुंचने लगे हैं. बताया जा रहा है कि आज श्याम रजक राजद का दामन थाम सकते हैं. राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि जो सपना तेस्वी यादव जी ने देखा था बिहार की तस्वीर और तकदीर को बदलने की, जो तस्वीर तेजस्वी यादव ने देखा है कि बिहार की दिशा और दशा को बदलेंगे औरबिहार को विकास के रास्ते पर ले जाएंगे उसको पुरा करने के लिए जो भी लोग आएंगे उनका स्वागत हैं.

मृत्युंजनय तिवारी ने यह भी कहा है कि ऐसे कई बड़े चेहरे पाइपलाइन में हैं और तेजस्वी यादव के संपर्क में हैं. उन्होंने यह भी कहा है कि आने वाले दिनों में डबल इंजन की सरकार के नेताओं की नींद उड़ जाएगी. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव की गुगली पर हैट्रिक होगा. आपको बता दें कि श्याम रजक दलित चेहरा हैं. ऐसे में राजद को इनसे उम्मीद है कि वे वोट बैंक में वृद्धि होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here