सीतामढ़ी में बाढ़ के हालात, बागमती और अधवारा समूह की नदियां उफान पर, अधिकारियों को छूट्टीयां रद्द

0
785

बिहार में मानसून सक्रिय होने के बाद से उत्तरी बिहार में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है. बुधवार की देर रात से कई नदियों के जलस्तर मे भारी वृद्धि हुई है जिसके कारण कई नए इलाकों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है. बागमती और अधवारा समूह की नदियों के जलस्तर मे लगातार वृद्धि हो रही है और सभी नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. कई प्रखंडों को बाढ़ के पानी ने अपनी चपेट मे ले लिया है. रीगा, बाजपट्टी, सुरसंड और परिहार में बाढ़ से हालात अब हालात खराब होते जा रहे हैं.

सीतामढ़ी के सोना खान, चंदौली मारर, कटौझा समेत कई जगहों पर बागमती नदी खतरे के निशान से काफी ऊपर है. सीतामढ़ी -बाजपट्टी, सीतामढ़ी-सुरसंड, सुरसंड-परिहार, रीगा -सुप्पी, सीतामढ़ी-शिवहर समेत कई ऐसी महत्वपूर्ण सड़कें हैं जिसपर बाढ़ के पानी के तेज बहाव की वजह से आवागमन प्रभावित है. आने जानें वाले यात्रियों का कहना है कि जैसे तैसे लोग इन सड़कों पर यात्रा अपनी पूरी कर रहे हैं.

सीतामढ़ी की डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने बताया कि बाढ़ को लेकर जिला प्रशासन अलर्ट मोड में है. सभी अधिकारियों को प्रभावित इलाकों में कैम्प करने का निर्देश जारी किया गया है. बाढ़ प्रभावित नयी जगहों पर कम्न्युनिटी किचन को जल्द शुरू किया जा रहा है. नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं जिसको लेकर बाढ़ प्रभावित इलाके के लोगों को सावधानी और सतर्कता बरते जाने की लगातार अपील की जा रही है. डी एम ने बताया कि सभी अधिकारी और कर्मियों की छुट्टिया रद्द कर दी गयी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here