एप्रोच पुल टूटने पर बोले तेजस्वी, कहा- अब निर्लज्ज भ्रष्ट सरकार ग्रामीणों पर ही केस दर्ज कर रही है कि वो मीडिया को सच क्यों बता रहे है?

0
278

सत्तर घाट के पास छोटे पुल का एप्रोच पथ टूट जान के बाद तीन एफआईआर दर्ज किया गया है. इस मामले में बिहार राज्य पुल निर्माण निगम, ठेकेदार और स्थानीय सीओ ने बैकुंठपुर थाना में ये प्राथमिकी दर्ज करवाई है. काम मे बाधा डालने और लॉकडाउन के बावजूद प्रदर्शन करने का भी आरोप है. यहां जो FIR दर्ज हुआ है उसमें ज्यादातर आरोप ग्रामीणों और अन्य लोगों पर लगा है. प्राथमिकी दर्ज होने पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने तीखी प्रतिक्रिया दी है.

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि 264 करोड़ की लागत से बने पुल के ढहने से पहले ग्रामीणों ने आगाह किया था, लेकिन भ्रष्टाचारी नीतीश सरकार की कहां आंख खुलने वाली थी? पुल ढहेगा तभी ना भ्रष्टाचार करेंगे? वीडियो देखिए. अब निर्लज्ज भ्रष्ट सरकार ग्रामीणों पर ही केस दर्ज कर रही है कि वो मीडिया को सच क्यों बता रहे है?

आपको बता दें कि छोटे पुल का एप्रोच पुल टूटने के बाद तीन अलग अलग एफआईआर दर्ज की गई है. बैकुंठपुर थाने में सीओ, ठेकेदार और पुल निगम के इंजीनियर ने एफआईआर दर्ज कराई है. इधर सीओ ने जिला परिषद रवि रंजन उर्फ विजय बहादुर के साथ समर्थकों पर लॉकडाउन तोड़ने की एफआईआर दर्ज कराई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here