सुब्रत राय को मिली राहत, हाईकोर्ट के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

0
252

पटना हाईकोर्ट में Sahara India family के चल रहे मामले को लेकर कोर्ट ने गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया था. सुब्रत राय सहारा की गिरफ्तारी परअब रोक लगा दी गई है. बता दें कि Supreme court ने सुब्रत राय सहारा की गिरफ्तारी पर रोक लगाया है. आपको बता दें कि पिछले दो दिन से पटना हाईकोर्ट में इस मामले पर सुनवाई हो रही थी जिसमें सुब्रत राय को कोर्ट में पेश होने को कहा गया था. लेकिन पटना हाई कोर्ट के बार बार बुलाने के बाद सुब्रत राय कोर्ट में हाजिर नहीं हो पाए इसके बाद कोर्ट ने गिरफ्तार करने का आदेश जारी कर दिया था. बता दें कि Patna High Court ने बिहार, उत्तर प्रदेश के डीजीपी और दिल्ली के कमिश्नर को सुब्रत राय को गिरफ्तार करने का आदेश जारी किया था. लेकिन अब जो बात कही जा रही है उसमे यह बताया जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने सहारा इंडिया के प्रमुख सुब्रत राय सहारा की गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दी है. अब इस मसले पर 19 मई को सुनवाई होगी.

पटना हाईकोर्ट के एक आदेश के बाद सुब्रत राय ने सुप्रीम कोर्ट का दरबाजा खटखटाया जिसमें सुब्रत ने अपनी अपनी अपील में कहा कि विवादित बकायों के भुगतान के लिए अग्रिम जमानत की याचिका का इस्तेमाल करना संभव नहीं है. सहारा ने यह भी कहा है कि पटना हाईकोर्ट के एकल पीठ ने CRPC की धारा 438 की गलत विवेचना की है. पटना हाईकोर्ट में दायर यह मामला प्रमोद कुमार सैनी की याचिका से संबंधित है. जिसमें दो निजी कंपनियों के मैनेजर ने अग्रिम जमानत की मांग की थी. इस मामले में पटना उच्च न्यायालय ने आदेश देकर सहारा के जमाकर्ताों को जोड़ा है. इधर सुप्रीम कोर्ट ने इस मसले पर गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगा दिया है. आपको बता दें कि इस पूरे मामले पर सुब्रत राय के वकिल कपिल सिब्बल है जिन्होंने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि सुब्रत राय सहारा को मामले में घसीटा जा रहा है. इस दौरान जस्टिस खानविलकर ने यह जानना चाहा कि क्या सहाराश्री अग्रिम जमानत के लिए गए थे, इस पर कपिल सिब्बल ने कहा कि हम इस मामले में किसी प्रकार से नहीं जुड़े हुए थे. इतना सुनते ही उच्चतम न्यायालय ने सुब्रत राय की गिरफ्तारी व सशरीर उपस्थिति पर अंतरिम रोक का आदेश पारित कर दिया.

शुक्रवार को जब सुब्रत राय कोर्ट में हाजिर नहीं हुए तो कोर्ट ने नाराज होकर गिरफ्तार वारंट जारी कर दिया. पटना हाईकोर्ट ने बिहार, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के डीजीपी को सुब्रत राय को गिरफ्तार करने का आदेश जारी कर दिया है. साथ ही 19 मई को अगली सुनवाई की तारीख भी तय की है. आपको बता दें कि सुब्रत राय सहारा के ऊपर लाखों लोगों का पैसा रखने का जुर्म लगा है. इतना ही नहीं सुब्रत राय सहारा के ऊपर देश के अलग अलग राज्यों में मुकदमा चल रहा है. सुब्रत की कंपनी सहारा के ऊपर गलत तरीके से पैसा जमा करने और निवेशकों का पैसा नहीं लौटाने का आरोप लगा है. आपको बता दें कि पटना हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान कोर्ट ने साफ साफ कहा था कि इस कंपनी पर भरोसा कर बिहार की गरीब जनता ने अपनी कमाई का एक बड़ा हिस्सा जमा किया था ताकि उनका भविष्य ठीक हो सके लेकिन कंपनी उनका पैसा लौटाने से मना कर रही है. आपको बता दें कि पटना हाई कोर्ट में 2000 से अधिक निवेशकों ने कंपनी के खिलाफ में केस दर्ज करवाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here