स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव का दूसरी बार फेरबदल, प्रत्यय अमृत होंगे नए हेल्थ सेक्रेट्री

0
196

बिहार में लगातार कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी हो रही है. पिछले कई दिनों से प्रदेश में एक दिन में कोरोना के 1000 से ज्यादा कोरोना मरीजों की पुष्टि हो रही है. इस बीच राज्य के प्रधान स्वास्थ्य सचिव उमेश सिंह कुमावत को हटा दिया गया है. उनकी जगह अब सीनियर आईएएस अफसर प्रत्यय अमृत को यह जिम्मेदारी दी गई है.

आपको बता दें कि बिहार इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक लिखा था जिसमें उन्होंने वर्तमान स्वास्थ्य सचिव का व्यवहार डॉक्टरों के प्रति उदासीन है. उनके व्यवहार से डॉक्टरों में रोष है. आईएमए ने भोजपुर और गोपालगंज के जिलाधिकारियों को भी चिकित्सक विरोधी व्यवहार के कारण स्थानांतरित किये जाने की मांग की. इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री के कहने पर सीएम नीतीश कुमार ने भी कउमेश सिंह कुमावत को फटकार लगाई थी.

इधर आईएमए के सचिव डॉ सुनील ने अनुरोध किया कि जिस प्रकार प्रशासनिक और पुलिसकर्मियों के लिए कोविड अस्पतालों में 25 फीसदी बेड आरक्षित करने का निर्देश दिया गया है, उसी प्रकार डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के लिए भी 25 फीसदी बेड आरक्षित की जाए. साथ ही, उन्होंने सभी डॉक्टरों से कोरोना के संकट काल में लोगों को अधिक अधिक स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की अपील की है.

सोमवार को प्रदेश में 2192 नए कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है. सोमवार को जारी रिपोर्ट में तीन दिन का रिपोर्ट जारी किया गया है. इनमें 26 जुलाईं को 812, 25 जुलाईं को 1048 और 24 जुलाईं व इसके पूर्व 332 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान शामिल है. इसके साथ ही बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 41,111 हो गई. जबकि सोमवार को छह कोरोना संक्रमितों की इलाज के दौरान मौत हो गयी. इसके साथ ही कोरोना पीड़ितों की मौत की संख्या बढ़कर 255 हो गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here