तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर बोला हमला, कहा- CM नीतीश बेरोजगारी पर बात करने से डरते क्यों हैं?

0
199

बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीति तेज हो गई है. निर्वाचन आयोग किसी भी समय चुनावों की घोषणा कर सकती है. ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियों ने तैयारियां शुरू कर दी है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी को मुद्दा बनाते हुए नीतीश सरकार को घेरने की कोशिश की है. इधर कांग्रेस ने भी बेरोजगारी का मुद्दा बनाते हुए आंदोलन करने का ऐलान किया है.

राजद नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए नीतीश सरकार पर हमला बोला है. उन्होने ट्विट करते हुए लिखा है कि बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार बेरोज़गारी पर बात करने से डरते क्यों है? क्या बिहार को बेरोज़गारी का मुख्य केंद्र बनाने के बाद उन्हें शर्म आती है? क्या नौकरियों में धाँधली और बिहार के उद्योग-धंधे बंद करवाने के बाद भी वह युवाओं को भ्रमित कर और अधिक ठगना चाहते है?

इससे पहले भी तेजस्वी यादव बेरोजगारी का मुद्दा बनाते रहे हैं. तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला बोलते हुए लिखा था कि बेरोजगारी इस देश का सबसे ज्वलंत मुद्दा है लेकिन यह सरकार की प्राथमिकता में नहीं है. करोड़ों युवाओं को नौकरी देने का वादा था यहाँ तो नौकरियाँ छिनी जा रही है. बिहार में सबसे अधिक बेरोज़गारी है. ड़बल इंजन सरकार ने बिहार को बेरोज़गारी का केंद्र बना दिया.

इधर बिहार कांग्रेस ने भी बेरोजगारी के नाम पर नीतीश सरकार को घेरने का ऐलान किया है. गुंजन पटेल ने कहा है कि बिहार में बेरोजगारी दर करीब 47 प्रतिशत है। कहा कि करीब पांच लाख पद खाली पड़े हैं। हर सरकारी बहाली अटकी हुई है। आरोप लगाया कि सरकार ने बिहारी युवाओं को हाशिये पर धकेलने का काम किया है। अब समय आ गया है कि सभी युवा साथी एकजुट होकर इस लड़ाई को लड़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here