तेजस्वी यादव ने CM नीतीश कुमार पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- सरकार कोरोना संक्रमित मरीजों के आंकड़े छुपा रही है

0
297

बिहार में कोरोना का कहर कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है. प्रतिदिन कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. मंगलवार की दोपहर तक कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 12140 थी. वहीं कोरोना से मरने वालों की संख्या 100 के पार कर गई है. अब कोरोना वायरस राजनीतिक और प्रशासनिक गलियारों में दस्तक दे दी है. बिहार विधान परिषद के सभापति कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं तो वहीं कई विधायक और उनके परिवार के लोग कोरोना की चपेट में आ गए है. अब कोरोना मुख्यमंत्री आवास में भी दस्तक दे दिया है. सीएम नीतीश कुमार की भतीजी कोरोना पॉजिटिव पाई गई है.

बिहार विधान परिषद में कोरोना की एंट्री के बाद से उसे 10 जुलाई के लिए बंद कर दिया गया है. इस दौरान सभी दफ्तरों को सैनिटाइज किया जा रहा है. आपको बता दें कि प्रदेश में राजनीतिक पार्टी के नेताओं से लेकर अधिकारियों में भी कोरोना वायरस ने दस्तक दे दिया है. पीएमसीएच में दसियों डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव हैं, जबकि भोजपुर के DM ऑफिस के 18 स्टाफ कोरोना संक्रमित पाए गए हैं जिसके बाद वहां कोहराम मचा है. कार्यालय के ड्राइवर, स्टेनो, ड्यूटी स्टाफ, टेलीफोन ऑपरेटर,प्रधान सहायक सहित डेढ़ दर्जन स्टाफ कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं.

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में हो रही वृद्धि को देखते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर बिहार सरकार पर हमाला बोलते हुए लिखा है कि सरकार को कहीं कोई चिंता नहीं. ना जांच की, ना इलाज की. पूरा मंत्रिमंडल, प्रशासन और सरकार चुनावी तैयारियों में व्यस्त है. सरकार आंकड़े छिपा रही है. अगर सरकार नहीं संभली तो अगस्त-सितंबर तक स्थिति और विस्फोटक हो सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here