तेजस्वी यादव 26 जुलाई को RJD कार्यकर्ताओं के साथ करेंगे वर्चुअल मीटिंग, BJP-JDU ने कसा तंज

0
222

बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीति तेज हो गई है. सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच में आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है. इस समय विपक्ष और सरकार वर्चुअल रैली को लेकर आपसे में भिड़े हुए हैं. राजद नेता तेजस्वी यादव प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के यह आरोप भी लगाया है जिस तरह से वर्चुअल रैली को लेकर बीजेपी और जेडीयू वाले उत्साहित हैं वैसा उन्हें परिणाम नहीं मिल रहा है. जेडीयू और भाजपा यह कहती है उनके भाषण को उनके नेता के भाषण को लाखों लोग सुनते हैं. लेकिन जब ऑनलाइन भाषण होता है तो महज कुछ सौ लोग ही यह भाषण सुनते हैं. वर्चुअल रैली के विरोध में लगातार बोलने वाले तेजस्वी यादव भी अब इसी प्लेटफॉम पर पहुंच गए हैं. वे 26 जुलाई को वर्चुअल मीटिंग करने वाले हैं.

तेजस्वी यादव के वर्चुअल मीटिंग को लेकर बीजेपी और जदयू दोनों हमलावर हो गई है. जेडीयू नेता अजय आलोक कहते हैं वर्चुअल मीटिंग क्यों आप कर रहे हैं. वर्चुअल तो आपको अच्छा नहीं लगता है. अजय आलोक यह भी कहते हैं कि आप बाढ़ में गए हैं और बाढ़ से आपका रिश्ता पुराना है. वहीं, बीजेपी कहती है तेजस्वी यादव पहले वर्चुअल को अनाप-शनाप कहते थे.अब उसे अपना रहे हैं शायद इसके महत्व को समझ रहे हैं.

वर्चुअल रैली को लेकर राजद अब बचाब में आ गई है. पार्टी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी कहते हैं कि 26 तारीख को जो वर्चुअल संवाद होने वाला है, रैली नहीं बल्कि मीटिंग हो रही है. इसमें जिला के अपने पदाधिकारियों से तेजस्वी यादव संवाद करेंगे जबकि बीजेपी और जेडीयू वाले रैली करते हैं, जिसका कोई महत्व नहीं है.

आपको बता दें कि बिहार में वर्चुअल रैली को लेकर सबसे पहले बीजेपी सामने आई थी. सके बाद जेडीयू ने इसे अपनाया तो आरजेडी ने तंज कसा था, लेकिन अब आरजेडी भी अपने आप को इस वर्चुअल वर्ल्ड में शामिल करने की तैयारी कर रही है. हालांकि अभी आरजेडी के नेता सिर्फ मीटिंग की बात करते हैं, लेकिन जैसे-जैसे चुनाव का वक्त नजदीक आएगा आरजेडी भी वर्चुअल मोड में नजर आएगी. अब यह देखना दिलचस्प है कि राजनीतिक पार्टियां किस तरह से अपना बयान देती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here