बिहार के इन 9 मेडिकल कॉलेजों में होगा कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज

0
304

प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या में हो रही तेजी से वृद्धि को देखते हुए बिहार सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. अब प्रदेश के सभी 9 मेडिकल कॉलेज अस्पतालों को कोविड अस्पताल घोषित कर दिया गया है. और इन सभी अस्पतालों में 50 प्रतिशत आइसोलेशन बेड बनाने के निर्देश जारी किए गए हैं. आपको बता दें कि सभी मेडिकल कॉलेजों में 100 बेड की क्षमता रहेगी एवं सभी पर ऑक्सीजन सिलिंडर की व्यवस्था का भी निर्देश दिया गया है.शनिवार यानी की आज से इन अस्पतालों में मरीजों की भर्ती शुरू हो जाएगी.

आपको बता दें कि राज्य में पहले से ही NMCH, ANMCH और गया JLNMCH पहले से कोरोना का अस्पताल बना हुआ है. अब अन्य सभी छह सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों के प्राचार्य और अधीक्षक को इस संबंध में निर्देश दिया गया है. प्रधान सचिव ने अपने आदेश में कहा कहा है कि सभी निर्देशित संस्थान में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए अलग भवन (ब्लॉक) को चिन्हित करें. साथ ही, उनमें 100-100 आईसोलेशन बेड की व्यवस्था करें ताकि वहां कोरोना पीड़ितों का इलाज किया जा सके.

क्षेत्रवार जानें कि किस अस्पताल में किन जिलों के मरीजों का इलाज होगा

  • पीएमसीच, पटना — पटना, सारण (छपरा), सीवान व गोपालगंज
  • डीएमसीएच, दरभंगा– दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, सुपौल एवं बेगूसराय
  • एसकेएमसीएच, मुजफ्फरपुर– सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर व शिवहर
  • वर्द्धमान आयुर्विज्ञान संस्थान अस्पताल, पावापुरी, नालंदा— नालंदा, नवादा और शेखपुरा
  • जीएमसीएच, बेतिया — पूर्वी व पश्चिमी चंपारण
  • जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल, मधेपुरा — सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, अररिया, कटिहार व किशनगंज
  • एनएमसीएच, पटना— भोजपुर, बक्सर, वैशाली, रोहतास व कैमूर
  • जेएलएन एमसीएच, भागलपुर- — भागलपुर, बाँका, मुंगेर, खगड़िया, जमुई व लखीसराय
  • एएनएम सीएच, गया — गया, औरंगाबाद, जहानाबाद व अरवल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here