बिहार के ये DM बने किसान, बता रहे हैं किसानों को श्रीविधि तकनीक के फायदे

0
1495

इस समय मानसून प्रदेश में सक्रिय हैं. किसान धान की फसल की रोपाई की तैयारी कर रहे हैं. ऐसे में बिहार सरकार पहले ही किसानों के फसलों की उच्च गुणवत्ता के लिए कई तरह सी विधियां बताती रही है जिससे की किसानों को लाभ मिल सके और वे मुनाफा कमा सके ऐसी हीएक विधि है श्री विधि यह धान रोपाई की विधि है इस विधि से धान रोपने से किसानों को बहुत फायदा मिलता है. मधुबनी के जिलाधिकारी इन दिनों खेतों में धान की रोपाई कर रहे हैं और किसानों को श्री विधि तकनीक के बारे में बता भी रहे हैं.

बिहार मधुबनी के डीएम खेत में पहुंच गए है. श्री विधि तकनीक को बढ़ावा देने के लिए खुद धान की रोपाई शुरू कर दी. डीएम डॉ. निलेश रामचंद्र देवरे रविवार को पंडौल कृषि फॉर्म पर पहुंचे. यहां श्रीविधि तकनीक की जानकारी लेने के बाद इसको प्रमोट करने के लिए उन्होंने धान की रोपाई की. किसानों को विश्वास दिलाने के लिए कि इस विधि से किसानों को काफी लाभ मिलेगा. ये पहले ऐसे जिलाधिकारी नहीं हैं जो किसानों के हितों के लिए सोंचते हैं उनके साथ खेतों में उतर कर काम करते हैं.

समस्तीपुर की जिलाधिकारी अभिलाषा कुमारी भी खेती की कमान संभाल चुकी है. वे खुद धान के खेत में पहुंच धान की फसल की कटाई की थी. उनके साथ कई अधिकारी भी उस समय थे. खेतों में उन्हें देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ जुट गई थी. डीएम अभिलाषा कुमार की इस पहल को लोगों ने काफी सराहा था. दअरसल मोबाइल एप्‍प के माध्‍यम से धान की कटाई करनी थी. इसके लिए सीतामढ़ी में डुमरा प्रखंड की रसलपुर पंचायत का चयन किया गया था. वाजितपुर धर्मकांटा गांव में धान की कटाई रखी गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here