इस ट्रेन में सुविधाओं को देख आप भी कहेंगे वाह!

0
631

वंदे भारत देश की पहली ऐसी ट्रेन है जिसमें कवच टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया है और इसकी सटीकता को जांचने के लिए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव खुद चेन्नई पहुंचे थे।केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव के मुताबिक वंदे भारत ट्रेन का परीक्षण 50000 किलोमीटर से अधिक और 180 किलोमीटर/घंटा तक की गति से किया जाएगा. शुक्रवार को रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने नई वंदे भारत ट्रेनों का मुआयना किया और उनकी प्रशंसा की. रेल मंत्री चेन्नई में इंटीग्रल कोच फैक्ट्री(integral coach factory) में निर्मित की जा रही नई वंदे भारत ट्रेनों को देखने पहुंचे थे.

 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल भारत की आजादी की 75 वीं वर्षगांठ पर अपने मंत्रालय को 75 ट्रेनों के उत्पादन का लक्ष्य दिया था. इसके परिणाम स्वरूप अगले 15 अगस्त तक 75 वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनें बनाई जाएंगी और देश के विभिन्न स्थानों पर भेजी जाएंगी.

रेल मंत्री ने बताया की सभी ट्रेनें पूरे देश को कवर करेंगी और मुझे खुशी है कि वंदे भारत ट्रेन का निर्माण I C F द्वारा कम समय और अच्छी गुणवत्ता में किया गया है. उन्होंने कहा यह विश्व स्तरीय ट्रेन है और इस ट्रेन में कुछ वास्तव में नवीन चीजें शामिल की गई हैं जैसे कि स्वचालित रूप से दरवाजे खोलना, लोको पायलट के संचालन के लिए ड्राइवर के केबिन में आरामदायक जगह आदि. उपयोगकतार्ओं के दृष्टिकोण से इस ट्रेन में यात्रियों के लिए अलगअलग विकलांग अनुकूल शौचालय के अलावा बैठने की कुर्सियों की सुविधा भी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here