मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन शुरू, तीन दिनों से था बंद

0
240

उत्तर बिहार में बाढ़ के कारण 10 जिलें इसकी चपेट में आ गए हैं. जिससे करीब 10 लाख से ज्यादा लोग इससे प्रभावित हुए हैं. बाढ़ के कारण पिछले तीन दिनों से पूर्व-मध्य रेल के समस्तीपुर रेल मंडल के मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज रेल खंड बंद था. जिसे अब एक बार फिर से बहाल कर दिया गया है.

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सह मीडिया प्रभारी सरस्वती चंद्र ने बताया कि मंडल के सगौली-मझोलिया स्टेशन के बीच बने रेल पुल संख्या-248 पर बाढ़ का पानी आ जाने के कारण पिछले 25 जुलाई को इस रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था. उन्होंने कहा कि इस रेल पुल पर बाढ़ के पानी का दबाव कम हो जाने के बाद मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज रेलखंड पर आज सुबह से गाड़ियों का परिचालन शुरू कर दिया गया है. चंद्र ने बताया कि 09040 बान्द्रा स्पेशल एवं 02557 सप्तक्रांति ट्रेन समेत इस रूट पर चलने वाली अन्य ट्रेनें अपने निर्धारित मार्ग मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज एवं गोरखपुर होकर चलेगी.

उत्तर बिहार में बाढ़ अभी भी अपने रौद्ध रूप में है. सोमवार को मुजफ्फरपुर के बंदरा प्रखंड में बूढ़ी गंडक नदी का रिंग बांध करीब 150 फीट में बह गया. इससे सैकड़ों परिवार बांध पर शरण लेने को मजबूर हो गए हैं, जबकि मुशहरी, बंदरा व मुरौल के करीब दो सौ लोग बाढ़ के पानी में घिर गए. वहीं मोतिहारी में बाढ़ से एनएच 28 में जबरदस्त कटाव हुआ है जिस कारण 29 जुलाई तक जिला प्रशासन ने सामान्य यातायात को बंद कर दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here