बिहार के परिवहन विभाग में प्रशिक्षण के दौरान हुआ बड़ा खुलासा, हो जायेंगे आप हैरान

0
248

बिहार में सरकारी गाड़ी चलाने वाले ड्राइवरों के मामलें में एक बड़ा खुलासा हुआ है. बिहार में सरकारी गाड़ी चलाने वाले ड्राइवर सीट बेल्ट तक बांधना नहीं जानते हैं. सरकारी गाड़ी जिसमें मंत्री और बड़े अफसर लोग सवारी करते हैं उनके गाड़ी को चलाने वाले ड्राइवरों में से कुछ को तो गाड़ी का सीट बेल्ट बांधने नहीं आता है. परिवहन विभाग के एक पत्र के माध्यम से यह बात सामने आई है. उसकी प्रति विभाग के प्रधान सचिवों और मंत्रियों के आप्त सचिवों को दी गई है।

पिछले महीने ही सरकारी गाड़ियों एक लिए परिवहन विभाग ने प्रशिक्षण कार्यक्रम रखा गया था और उस दौरान ही ड्राइवरों की कमियों की सूची बनाई गयी थी. इन्हें आदेश दिया कि इस कमियों को मुक्त किया जाये। जानकारी के अनुसार गाड़ियों के आवश्यक दस्तावेज भी नहीं होने अथवा अपूर्ण होने की जानकारी मिलती है. आम नागरिकों से पास अगर ये दस्तवेज न हो तो चालान कट जाते हैं.

प्रशिक्षण के दौरान यह भी ज्ञात हुआ कि की सरकारी गाड़ियों के पास तो आरसी भी नहीं है. यदि उपलब्ध है भी तो उनकी फोटो कॉपी ही ड्राइवर के पास उपलब्ध है. कई ड्राइवरों को तो यह भी ज्ञात नहीं है कि प्रदूषण नियंत्रण प्रमाण पत्र भी गाड़ी में रखना अनिवार्य है. कुछ ड्राइवर तो बिवा लाइसेंस के ही प्रशिक्षण लेने आ गए.

परिवहन विभाग के द्वारा प्रधान सचिवों से आग्रह किया है कि आवश्यक दस्तावेजों को गाड़ी में रखे जाने का इंतजाम किया जाये। ये कागजात आउससोर्सिंग वाले वाहनों के लिए भी अनिवार्य हैं. ऐसे गाड़ियों में व्यावसायिक निबंधन, इंश्योरेंस, फिटनेस सर्टिफिकेट एवं परमिट की प्रति रखना भी आवश्यक हैं. इन कागजातों के मामले में भी प्रशिक्षण के दौरान की ड्राइवर अनभिज्ञ थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here