बिहार में बिना लक्षण वाले मरीजों को होगा होम आइसोलेशन, मिलेगी जरूरी दवाएं

0
199

बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. प्रतिदिन कोरोना के 1000 से ज्यादा मरीजों की पुष्टि हो रही है. इसी बीच विभाग ने तय किया है कि बिना लक्षण वाले कोविड-19 मरीजों को ही अब होम आइसोलेशन में रखा जाएगा. यही नहीं प्रशासन की ओर से उन्हें घर पर ही जरूरी दवाईयां पहुंचाई जाएगी. साथ ही उनके स्वास्थ्य की जानकारी नियमित रूप से ली जाएगी.

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव उदय सिंह कुमावत ने इस संबंध में सूबे के जिलाधिकारी और सिविल सर्जन को पत्र लिखकर जरूरी दिशा-निर्देश दिए हैं। पत्र में कहा गया कि किसी मरीज के होम क्वारंटीन या आइसोलेशन सेंटर में रखे जाने का फैसला जिला पदाधिकारी करेंगे. आपको बता दें कि होम आइसोलेशन में बिना लक्षण वाले मरीजों को रखा जाएगा. इसके अलावा अगर किसी को डायबिटिज, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेसर जैसी शिकायत है तो उन्हें भी होम आइसोलेशन में नहीं रखा जाएगा.

होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को स्वास्थ्य कर्मियों की ओर से घर-घर जाकर दवा दी जाएगी. स्वास्थ्य कर्मियों को जरूरी दवाओं की एक किट दी जाएगी, जिसमें सभी जरूरी दवाएं होंगी. इसमें इस्तेमाल का तरीका भी होगा, जिससे किसी तरह कोई असुविधा नहीं हो. मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी लेते हुए होम आइसोलेशन के दौरान ‘क्या करें और क्या ना करें’ की जानकारी भी दी जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here