उपेंद्र कुशवाहा ने महागठबंधन को छोड़ मायावती से मिलाया हाथ, कहा- बनाना है नीतीश कुमार मुक्त बिहार

0
185

बिहार के राजनीतिक गलियारों से जो सबसे बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है. रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने अपने आप को महागठबंधन से अलग कर लिया है. इसके साथ ही उन्होने एक नया गठबंधन तैयार किया है. इस बार उन्होंने बसपा के साथ गठबंधन किया है. इस गठबंधन के साथ जनवादी पार्टी सोशलिस्ट पार्टी भी शामिल हैं. इस मौके पर बिहार के मुख्यमंत्री पर हमला बोलते हुए कुशवाहा ने कहा है कि नीतीश कुमार ने 15 साल में बिहार को रसातल में पहुंचा दिया है. उन्होंने कहा कि बिहार को नीतीश कुमार मुक्त करना जरूरी है. कुशवाहा ने कहा कि नीतीश कुमार 15 साल सिर्फ कुर्सी बचाने में लगे रहे.

आपको बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा ने बसपा के साथ 243 सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है. इस दौरान उन्होंने चिराग पासवान को भी न्योता दिया है और कहा कि इस गठबंधन में जो आना चाहें सबका स्वागत है. रालोसपा प्रमुख ने कहा कि हमने अपनी नाव मझधार से निकाल ली है, लेकिन जो कमजोर दिल वाले हैं वो उतरकर भाग रहे हैं.

कुशवाहा ने न सिर्फ नीतीश कुमार उन्होंने लालू-राबड़ी शासन काल पर भी हमला बोलते हुए कहा कि लालू राज में लोग दोनों हाथों से पैसे बटोरते थे. पैसे के बिना कोई कम नहीं होता था. नीतीश कुमार भी पुराने 15 साल की तरह काम कर रही और बिहार में दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं. उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि लालू के समय में शिक्षा व्यवस्था कैसी थी इससे समझ सकते हैं कि वे अपने दोनों बेटों को मैट्रिक भी पास नहीं करवा पाये.

उपेंद्र कुशवाहा ने आगे बोलते हुए कहा कि आरजेडी और बीजेपी के बीच कुछ ना कुछ चल रहा है. आरजेडी ने जो निर्णय हाल में लिया है वो साबित करता है कि नीतीश कुमार अपनी तुलना फेल विद्यार्थी से कर रहे हैं. 30 नम्बर वाले की तुलना में 17 नम्बर लाकर वाहवाही लूट रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here