CAB मामले पर उपेंद्र कुशवाहा ने CM नीतीश पर लगाए गंभीर आरोप, जानिए पूरा मामला

0
673

नागरिक संशोधन बिल को लेकर बिहार में सियासत गरम है. जदयू के बिल पर समर्थन करने के बाद से बिहार में सियासत गरमा गई है. जहां जदयू में ही बिल को लेकर सहमती नहीं बन रही है तो वही बिहार की राजनीतिक पार्टियां जदयू पर बिल को लेकर निशाना साध रही है. इसी कड़ी में रालोसपा अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने जदयू नेता प्रशांत किशोर पर बड़ा हमला बोला है.

आज यानी रविवार को ट्वीट करते हुए उपेंद्र कुशवाहा ने लिखा कि प्रशांत किशोर, पवन वर्मा और बलियावी जैसे नेताओं से अपने जैसा ही ढ़ोंग करवाकर, नीतीश कुमार दूल्हा और दुल्हन दोनों का भाई बने रहना चाहते हैं ताकि कुर्सी पर बनें रहने के खातिर अपने मन मुताबिक समय आते हीं तुरन्त उलट-पलट कर सकें.

आपको बता दें कि बिहार की सत्ताधारी पार्टी JDU के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर यानी एनआरसी (NRC) के मसले पर अपने रुख पर कायम हैं. रविवार सुबह एक ट्वीट कर उन्होंने इस बात को पूरी तरह से साफ कर दिया है. किशोर ने लिखा है कि वह पूरे देश में एनआरसी लागू किए जाने पर इसके विरोध को लेकर अपने रुख पर कायम हैं.

प्रशांत किशोर ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि देशभर में एनआरसी का विचार नागरिकता की नोटबंदी के बराबर है. जब तक आप इसे साबित नहीं करते तब तक आप अमान्य हैं. हम अपने अनुभव से जानते हैं कि गरीब और हाशिए पर खड़े लोग इससे सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं.

आपको बता दें कि बिते शनिवार को प्रशांत किशोर ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की थी. करीब डेढ़ घंटे मुलाकात के बाद मीडिया से बात करते हुए किशोर ने कहा था कि नीतीश देशभर में एनआरसी के मामले में अभी भी विरोध के पुराने स्टैंड पर कायम हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here