वायरल खुलासा 25 : बैंक में आम आदमी का पैसा डूब जाने वाले मैसेज का सच

0
898

सोशलमीडिया पर इनदिनों एक खबर काफी वायरल हो रही है जिसमे यह दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार एक ऐसी बिल लेकर आ रही है ,जिसमे बैंक के दिवालियां हो जाने पर उसमे जमा आपकी जमापूंजी आपकी नहीं रहेगी। FRDI नामक इस बिल पर लोग जमकर रोष जाता रहे है। परन्तु क्या वायरल हो रहा यह मैसेज सच है ? FRDI नामक कोई ऐसा बिल है ,जिसमे ये प्रावधान है ?

जब इस मैसेज की पड़ताल करने के लिए प्रसिद्ध न्यूज़ चैनल एबीपी न्यूज़ के पत्रकारों ने बैंक एक्सपर्ट से बात की तो उन्होंने बताया कि FRDI Bill का मतलब Financial Resolution and Deposit Insurance Bill 2017 है ,जो इसी साल 11 अगस्त को लोकसभा में पेश किया गया है लेकिन अभी अटका हुआ है।
बताया जाता है कि पहले Deposit Insurance and Credit Guarantee Corporation (DICGC) बिल लागू था जिससे अनुसार अगर कोई बैंक दिवालिया हो जाती है तो उस स्थिति ,में जमाकर्ता को 1 लाख तक का भुगतान किया जा सकता है।
FRDI के मामले में वित मंत्रालय के प्रेस विज्ञप्ति से मिली जानकारी के अनुसार अब अगर कोई बैंक दिवालिया हो जाती है तो 1 लाख से ऊपर के जमाकर्ताओं को भी बैंक अपनी सम्पति बेच के भुगतान करनी पड़ेगी ,सरकार ऐसे बैंकों पर FRDI के माध्यम से दबाब बनाकर जमाकर्ताओं के पैसे वापस दिलवायेगी।
पड़ताल के बाद दावा किया जा रहा यह मैसेज गलत साबित हुआ। इससे आम जनता के जमापूंजी पर ख़तरा कम होगा ,ये जनता के हित में बनाई गई बिल हैं।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here