चुनाव आयोग का बड़ा फैसला, 65 साल से अधिक उम्र के वोटर नहीं कर पाएंगे पोस्टल बैलट

0
352

बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीति तेज हो गई है. कोरोना काल में चुनाव तय समय पर हो या न हो उसको लेकर उहोपोह की स्थिति बनी हुई है. अब चुनाव आयोग ने कहा है कि आगामी बिहार विधानसभा चुनाव में 65 साल से अधिक की उम्र के मतदाता पोस्टल बैलट का इस्तेमाल नहीं सकेंगे. चुनाव आयोग ने यह फैसला कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए लिया है. आपको बता दें कि बिहार में चुनाव की गहमागहमी के बीच में यह कहा जा रहा था कि 65 साल से अधिक के लोग पोस्टल बैलट के जरिए ही वोट डाल सकेंगे.

बैलट पेपर से वोट देने को लेकर चुनाव आयोग ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि 65 साल से अधिक उम्र के लोग, गर्भवती महिलाओं और 10 साल से कम उम्र को अनिवार्य तौर पर घरों के भीतर रहना है. जब तक कोई अतिआवश्यक काम या फिर हेल्थ इमरजेंसी न हो घर से बाहर नहीं निकलना है. कोरोना की स्थितियों को देखते हुए ही आयोग ने पहले 65 साल से अधिक उम्र के लोगों और कोरोना मरीजों के भी पोस्टल बैलट के प्रयोग का निर्णय लिया था. ऐसा इसलिए किया गया कि ये लोग अपने अधिकारों से वंचित न रहें. अब वर्तमान स्थितियों को देखते हुए आयोग ने फैसला किया है कि ये सुविधा अब नहीं मिलेगी.

वर्तमान समय में सेना, पैरामिलिट्री फोर्सेज और विदेशों में काम कर रहे सरकारी कर्मचारियों समेत निर्वाचन की ड्यूटी में तैनात कर्मियों को पोस्टल बैलट का अधिकार प्राप्त है. साथ ही बीते साल अक्टूबर महीने में कानून मंत्रालय ने 80 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों और दिव्यांगों को भी पोस्टल बैलट से वोट की सुविधा दी थी. सरकार द्वारा ये कदम वोटिंग को प्रोत्साहित करने के लिए किया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here