गंडक नदी के जल स्तर बढ़ने से कई गांवों में घुसा पानी, जिला मुख्यालय से टूटा संपर्क

0
819

नेपाल में हुई भारी बारिश के बाद से बिहार में बाढ़ का पानी घुसने लगा है. गंडक नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है. गोपालगंज के नीचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं. यहां बाढ़ के पानी से करीब एक दर्जन गांवों का संपर्क जिला मुख्यालय से टूट गया है. गोपालगंज के जिन इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं उसमें सदर प्रखंड का रामनगर, मेहंदिया, मकसूदपुर, जगरीटोला सहित एक दर्जन गांव शामिल हैं. इन गांवों में जाने वाले रास्ते पानी में डूब गए हैं. यहां लोगों के गांवों में पानी घुस गया है जिससे लोगों का आने जाने में परेशानी होगी.

स्थानीय लोगों की माने तो सरकार या जिला प्रशासन के द्वारा इस इलाके में किसी भी तरह की सरकारी नाव की कोई व्यवस्था नहीं की गयी है. लोग खुद से प्राइवेट नाव चलाकर जरूरी काम निबाटने के लिए जिला मुख्यालय आ रहे हैं. गोपालगंज में हर साल करोड़ो रुपये बाढ़ से बचाव को लेकर खर्च किये जाते हैं बावजूद इसके यहां सदर प्रखंड के इन इलाको में हर साल बाढ़ का पानी मानसून के शुरू होते ही घुस जाता है जिसकी वजह से एक दर्जन गांवों के सैकड़ों लोगों की परेशानी बढ़ जाती है.

गोपालगंज जिले के रामनगर के रहने वाले देवेंद्र सिंह ने बताया कि जगरीटोला, खाप मसूदपुर, रामनगर , मेहंदिया, कटघरवा, पतहरा जैसे गांव बाढ़ से घिर गए है. यहां एक दो प्राइवेट नाव का संचालन किया जा रहा है लेकिन जिला प्रशासन द्वारा अभी एक भी नाव की व्यवस्था नहीं की गयी है. गंडक नदी पर 16.5 करोड़ रुपयए की योजना बनाई गई थी जिससे गंडक नदी के पानी को गंडक की धारा में मुड़ जाएगी, लेकिन अभी तक इसका कोई असर दिख नहीं रहा है. अधिकारियों ने दो नावों का परिचालन शुरू कर दिया गया है.

स्त्रोतः-https://hindi.news18.com/news/bihar/gopalganj-flood-water-of-gandak-river-entered-in-to-villages-of-gopalganj-brsgm-bramk-3157990.html

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here