कैमूर की चारों सीटों पर महागठबंधन का मन क्या है ?

0
181

बिहार के सीमावर्ती जिले कैमूर में विधानसभा की 04 सीटे हैं. पिछले विधानसभा चुनाव में जब पूरे बिहार में महागठबंधन की सुनामी चल रही थी तब भी कैमूर जिले की जनता ने सभी 04 की 04 सीटें भाजपा की झोली में डालकर चौंका दिया था. कैमूर बिहार की राजनीति में महत्वपूर्ण इसलिए भी माना जाता है क्योंकि इसे पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार और राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह का इलाका माना जाता है.

RJD में बड़ा फेरबदल: जगदानंद सिंह ...

केंद्र में कांग्रेस और बिहार में राजद की सरकार में इस जिले को सहुलियतें और सुविधाएं भी ज्यादा मिलती रही हैं, बावजूद इसके जिले की सभी 04 विधानसभा सीटों पर भाजपा का कब्जा है. भाजपा को पटखनी देने के लिए महागठबंधन इस बार क्या करने जा रहा है. राजद, कांग्रेस और रालोसपा में से कौन, किस सीट पर लड़ेगा, ये सवाल लोगों के लिए कौतूहल का विषय बनता जा रहा है.

Meira Kumar: Opposition President nominee Meira Kumar, a diplomat ...

रामगढ़ विधानसभा सीट

रामगढ़ विधानसभा सीट राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद की पारपंरिक सीट रही है. इस सीट से इस दफे उनके पुत्र सुधाकर सिंह का राजद के टिकट पर चुनाव लड़ना तय माना जा रहा है. सुधाकर सिंह सालों से इस सीट पर मेहनत करते आ रहे हैं. सुधाकर आम तौर किसानों से जुड़े मुद्दों को उठाते रहते हैं. क्षेत्र के युवाओं में अच्छी पकड़ है, इसलिए रामगढ़ में महागठबंधन उम्मीदवार के तौर पर सुधाकर के नाम पर किसी को कोई शंका नहीं है.

बिहार में RJD ने जारी की जिलाध्यक्षों ...

मोहनियां विधानसभा क्षेत्र

मोहनियां विधानसभा क्षेत्र से पिछली बार कांग्रेस के संजय पासी उम्मीदवार थें. इस बार ये सीट राजद के खाते में जा सकती है और अकलू राम उम्मीदवारह हो सकते हैं. एक चर्चा यह भी है कि पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार के पुत्र अंशुल यहां से कांग्रेस के उम्मीदवार हो सकते हैं. जाहिर है कि अगर अंशुल चाहेंगे तो उन्हें चुनाव लड़ने से कोई रोक नहीं सकेगा.

Maharashtra Assembly Polls: Congress likely to release first list ...

भभुआ विधानसभा क्षेत्र

भभुआ विधानसभा क्षेत्र से रालोसपा प्रत्याशी वीरेंद्र कुशवाहा की दावेदारी भी मजबूत नजर आ रही है. विगत विधानसभा उपचुनाव में इस सीट से कांग्रेस के शंभू पटेल उम्मीदवार थें. एक संभावना जताई जा रही है कि इस दफे भाजपा विधायक रिंकी रानी पांडेय का टिकट कट सकता है और जदयू के डॉ प्रमोद कुमार यहां से उम्मीदवार हो सकते हैं. ऐसी स्थिति में कांग्रेस के अशोक कुमार पांडेय उर्फ मुन्ना पांडेय पर महागठबंधन दांव लगा सकती है.

rlsp rebel group Election commission new name and symbol - Kashish ...

चैनपुर विधानसभा क्षेत्र

विगत विधानसभा चुनाव में चैनपुर विधानसभा क्षेत्र में महागठबंधन की हालत बेहद खराब थी. महागठबंधन की ओर से जदयू के उम्मीदवार रहे महाबली सिंह कुशवाहा लड़ाई में भी नहीं रह सके थें और भाजपा की सीधी टक्कर बसपा से हुई थी. राजद चैनपुर विधानसभा क्षेत्र में किसी यादव को उम्मीदवार बनाने के पक्ष में है. उधर लोकसभा चुनाव के पहले से ही लगातार कांग्रेस कार्यकर्ताओं और कैडरों के बीच कांग्रेस के युवा नेता प्रकाश कुमार सिंह काम करते नजर आ रहे हैं. प्रकाश, मीरा कुमार के बेहद करीबी माने जाते हैं और संबंधों के आधार पर वो चैनपुर विधानसभा सीट के लिए जोर आजमाईश करते हुए दिखाई दे रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here