झाड़ू लगाकर ये महिला बनी सेलिब्रिटी, इस स्टार के साथ देखकर आप भी कह उठेंगे वाह

0
940

“चलऽ सखी मिल के… ओ चलऽ सखी मिल के…, गलियां में झाड़ू लगाई जा… चलऽ सखी मिल के…।” गाँव की एक मजदूर महिला जो गाँव की गलियों में इस गीत को गाती है, आज अपने क्षेत्र में एक हस्ती बन गई है। इतना ही नहीं, पूरा देश भी उन्हें अब सुनेगा, और दूरदर्शन उन पर एक विशेष एपिसोड बनाने जा रहा है। ये महिलाएं ‘हेमंती’ हैं, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत का सपना देख रही हैं। ये महिला नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत के सपने को साकार करने में मदद कर रही है, और ये महिला हैं ‘हेमंती’।

जीवन के प्रति अलग जज्बे ने बनाया आम से खास

पांचवीं कक्षा तक पढ़ी हेमंती बिहार के रोहतास के एक गरीब परिवार से है। पति भी मजदूरी करता है। दूसरी ओर, हेमंती की अलग जीवनशैली ने उन्हें गाँव में मजदूरी करने वाली एक आम महिला से खास बना दिया है। दावथ ब्लॉक के सेमरी गाँव की ‘हेमंती’ देवी अब लोहिया स्वच्छ गाँव मिशन की राष्ट्रीय आइकन बनेंगी और स्वच्छता का संदेश देंगी। वे अपने गीतों से लोगों को जागरूक करेंगे। खुले में शौच न करने की अपील भी होगी।

मनोज तिवारी संग टीवी शो में आएंगी नजर

इतना ही नहीं, वे जल्द ही दूरदर्शन के शो ‘सफर मंज़िलों का’ में नज़र आएँगी। यह सेमरी पंचायत को खुले में शौच से मुक्त करने में उनकी प्रमुख भूमिका पर ध्यान केंद्रित करेगा। दूरदर्शन के कार्यक्रम के कार्यकारी अधिकारी अनिल मिश्रा ने कहा कि सेलिब्रिटी शो ‘सफर मंज़िलों का’ में सांसद-सह-अभिनेता मनोज तिवारी प्रमुख भूमिका निभा रहे हैं।

स्वच्छता मुहिम देखते-देखते असर छोडऩेे लगी

सेमरी पंचायत को पिछले साल 20 मार्च को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया गया था। लोगों को शौचालय बनाने के लिए प्रेरित करने में बहुत कठिनाई हुई। प्रशासन से लेकर प्रबुद्धता तक, विचार प्रभावित नहीं हुआ, लेकिन स्थानीय गांव के कामता राम की पत्नी हेमंती के विचार ने काम किया।

प्रशासन ने बनाया ‘मिशन प्रतिष्ठा’ का आइकॉन

हेमंती उनके बीच की थी और जब गीत के बोल गलियों में गूंजने लगे, तो स्वच्छता अभियान ने अपना प्रभाव छोड़ना शुरू कर दिया। तब प्रशासन ने उन्हें मिशन प्रतिष्ठा का आइकन बनाया। उनके अभियान से प्रभावित होकर दूरदर्शन अब एक शो बना रहा है जिसकी शूटिंग मुंबई में की गई है। उनकी भाषा में लोगों ने बात की।

जिंदगी में पहली बार हवाई सफर कर पहुंचीं मुंबई

हेमंती बताती हैं कि अगर लोग अपनी भाषा में बात करते हैं, तो इसका महत्व समझ में आता है। गीत गाकर लोगों को बाताया क़ी खुले में शौच से बीमारियां होती हैं। यह अच्छा लग रहा है कि लोग अब मुझे टीवी पर देखेंगे। पहली बार हवाई यात्रा की और मुंबई पहुंची।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here