10 देशों से आए युवाओं ने हरमंदिर साहिब में मत्था टेका और गुरु की वाणी को जन-जन तक पहुंचाने की बात कही

0
139

विदेश मंत्रालय के द्वारा चलाई जा रही भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के तहत पटना हरमंदिर साहिब में आये 39 युवाओं ने मत्था टेका और कहा कि सिख धर्म के पहले गुरु गुरु नानक देव महाराज के संदेश को जन-जन तक पहुंचाना है. ये युवा विश्व के दस देशों के हैं जोकि सिख धर्म के प्रचार प्रसार के लिए विश्व में भ्रमण कर रहे हैं.

सिख धर्म के दसवें गुरु गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के दरवार में पहुंचने के बाद युवाओं ने दरबार में मत्था टेका उसके बाद गुरु गोविंद सिंह से जुड़े अवशेषों का दर्शन किया. अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य मनजीत सिंह रागी ने कहा कि गुरुनानक जी महाराज के 550वें प्रकाश पर्व पर उनका संदेश विश्व के सभी देशों में पहुंचना चाहिए.

गुरु गोविंद सिंह जी महाराज ने कहा था कि बसुधैव कुटुम्बकम यानी (सम्पूर्ण विश्व एक परिवार) और मानव की जात सब एक हो. इसी संदेश को जन-जन तक पहुचाने के लिये विदेश मंत्रालय की ओर से 10 देशों से आये युवा सिक्ख श्रद्धालुओं ने गुरु घर मे आकर अपनी हाजरी लगाई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here