skip to content

पाकिस्तान से सब डरते हैं बोलने वालों की निकली हेकड़ी

shubham kumar

वनडे विश्व कप अब अपने आखिरी फेज में पहुंच चूका है, विश्व कप दो हजार तेइस हर टीम एक अलग एक्सपीरियंस की तरह रहा, यहां कुछ टीमों को उम्मीद से ज्यादा मिला तो कोई जैसा सोचा था उसके आसपास भी नहीं पहुंच सका. पाकिस्तान टीम के लिए यह विश्व कप उनका भ्रम तोड़ने वाला रहा है, विश्व कप से पहले पाकिस्तान की टीम बड़ीबड़ी डींगे हांक रही थी, लेकिन यहां जो आहत पहुंची उसके बाद कभी भी वे ऐसी बातें सरेआम नहीं करेंगे, सीधे शब्दों में कहें तो पाकिस्तानी खिलाड़ी जिस तरह से गरजे थे, वैसे वे बरसे नहीं. क्योंकि जब उसकी नौबत आई तो उनकी सारी हेकड़ी निकल गई. तो चलिए आज हम आपको बताते हैं की विश्व कप से पहले कौन से पाकिस्तानी खिलाड़ी ने क्या कहा था.

पाकिस्तान को उसका ज्यादा आत्मविश्वास ले डूबा 

वनडे विश्व कप से पहले पाकिस्तानी टीम के गरजने वाले खिलाड़ियों में इमाम से लेकर बाबर तक, बाबर से लेकर शाहीन शाह अफरीदी तक सभी शामिल रहे. ये सभी खिलाड़ी वर्ल्ड कप से पहले और वर्ल्ड कप के शुरुआती फेज के दौरान, ऐसे डींगे हांक रहे थे, जैसे इस बार तो चैंपियन बनकर ही रहेंगे. लेकिन, अब आलम ये है कि उनसे वर्ल्ड कप का खिताब काफी दूर हो चुका है. और ये सब इसलिए क्योंकि उन पर आत्मविश्वास का भूत सवार हो चुका था.

पाकिस्तान से वनडे में डरती है सभी टीमें 

आपको बता दे की वर्ल्ड कप शुरू होने से पहले पाकिस्तानी सलामी बल्लेबाज इमामउलहक को ये बहुत बड़ा भ्रम था कि बाकी टीम वनडे में पाकिस्तान से डरती हैं, उनकी इस सोच के पीछे की वजह थी बाबर आजम की बैटिंग और पाकिस्तान की बॅालिंग लाइन अप, लेकिन इस वर्ल्ड कप में इमामउलहक के इस भ्रम को टूटते हर किसी ने देखा. इस विश्व कप में ना तो उनके बाबर आजम का बल्ला ला और ना ही पाकिस्तान के गेंदबाज जिसके भरोसे इमाम को इतना बड़ा भ्रम था, विश्व कप में पाकिस्तान टीम के गेंदबाजों की लगभग सभी टीमों ने बखिया उधेड़ कर रख दी.

बाबर की कप्तानी पर लटकी तलवार 

ये तो रही इमाम उल हक की बात जो उन्होंने वर्ल्ड कप से पहले कही थी, वर्ल्ड कप के दौरान अकड़ में कही बाबर आजम की वो बात भी आपको याद ही होगी, उन्होंने भारत के खिलाफ चौदह अक्टूबर को होने वाले से मैच से पहले वाले प्रेस कॅान्फ्रेंस में कहा था कि इस एक मैच या एक टूर्नामेंट की वजह से ना तो कप्तानी उन्हें मिली है, और ना ही जाएगी, लेकिन अब देखिए उनकी हालत क्या है. पाकिस्तान की टीम तो वर्ल्ड कप से बाहर हो ही चुकी है, ऐसा होने के बाद उधर पाकिस्तान में बाबर आजम को कप्तानी से हटाने की बात भी जोर से धधक रही है.

शाहीन का जोश पड़ा ठंठा 

पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी भी वर्ल्ड कप से पहले भारत में खेलने को लेकर काफी एक्साइटेड थे, उन्होंने अकेले थोड़ीबहुत अपने परफॅार्मेन्स से जरूर छाप छोड़े, लेकिन वैसे प्रदर्शन का ही क्या फायदा जो टीम को जीत नहीं दिला सके. विश्व कप से बाहर होने के बाद अब इन सभी खिलाड़ियों की बोलती बंद है. प्रेस कॅान्फ्रेंस में बाबर आजम के चेहरे पर बस है तो अफसोस और झुंझलाहाट, जो गाहेबेगाहे दिख जा रही है. उम्मीद है पाकिस्तान ने इस वर्ल्ड कप से कुछ सीखा हो या ना हो पर इतना जरूर सबक लिया होगा कि आगे से बड़ीबड़ी बातें नहीं करेंगे.

आपको क्या लगता पाकिस्तान टीम को उसका ज्यादा आत्मविश्वास ले डूबा. हमें कमेंट कर जरूर बताएं. धन्यवाद

Leave a Comment