skip to content

ऋतुराज गायकवाड़ एक ओवर में 7 छक्के लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज, दोहरा शतक भी जड़ा, देखे वीडियो

Bihari News

चेन्नई सुपर किंग्स के सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ ने Vijay Hazare Trophy के क्वार्टर फाइनल में धमाकेदार पारी खेली। क्वार्टर फाइनल मुकाबले में महाराष्ट्र और उत्तरप्रदेश की टीमें आमने सामने थी। महाराष्ट्र की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए उत्तरप्रदेश के सामने 330 रनों का लक्ष्य निर्धारित किया है। कप्तान ऋतुराज ने कप्तानी पारी खेलते हुए अकेले ही टीम के लिए 159 गेंद पर नाबाद 220 रन ठोक डाले। उन्होंने इस दौरान 16 छक्के और 10 चौके भी बटोरे। इस दौरान उन्होंने एक ऐसा कारनामा भी किया जिसपर यकीन कर पाना मुश्किल था उन्होंने एक ओवर में 43 रन बना डाले। एक ओवर में उन्होंने 7 छक्के लगा डाले, जिसमें एक नो बॉल पर छक्का शामिल था। इस धुआधार पारी से एक बार फिर उन्होंने टीम इंडिया का दरवाजा खटखटाया है।

विजय हजारे ट्रॉफी के इस सेशन में ऋतुराज गायकवाड़ का ही राज रहा हैं उन्होंने पिछली 8 पारियों में 6 शतक लगाए है। वह बेहतरीन फॉर्म से गुजर रहे है। उनका आइपीएल 2022 शानदार नहीं गया था। टूर्नामेंट में वह लय पाने में असमर्थ रहे थे। मगर इस साल वह प्राइम फॉर्म में है और आइपीएल 2023 में अपने बल्ले से जलवे बिखेर सकते है। उनकी सफलता का श्रेय एमएस धोनी को भी जाता है। जो खिलाड़ी एक बार धोनी की शरण में आ गया उसका चमकाना तो लगभग तय माना जाता है।

एक ओवर में जड़े 43 रन, उड़ा डाले 7 छक्के

ऋतुराज ने यूपी के खिलाफ 220 रनो की नाबाद पारी खेल भारतीय टीम के सेलेक्टर्स को अपनी याद दिलाई है। उन्होंने इस दौरान कई रिकॉर्ड भी बनाए मगर महाराष्ट्र की पारी का एक ओवर ऐसा था जिसने सबका ध्यान खींचा। यूपी की गेंदबाजी का पारी का 49वां ओवर लेकर आए बाएं हाथ के स्पिनर शिवा सिंह, उनकी पहली 4 गेंदों पर ऋतुराज चार छक्के लगा सनसनी मचा दी मगर फिर दबाव के कारण शिवा ने पांचवी गेंद नोबॉल डाल दी। लेकिन ऋतुराज ने उसपर भी छक्का लगा दिया। और बाकी बची हुई गेंदों पर भी छक्का लगा दिया। ओवर में कुल 7 छक्के लगे जिससे 42 रन बनते है और एक रन नोबॉल का भी मिला तो कुल 43 रन ओवर से आए और इतिहास बन गया। इससे पहले मैच में उप्र ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। महाराष्ट्र की शुरुआत अच्छी नहीं रही। टीम ने 41 रन पर 2 विकेट खो दिए थे। ओपनर ऋतुराज गायकवाड़ के साथी खिलाड़ी एक के बाद एक आउट होकर मैदान छोड़ रहे थे। राहुल त्रिपाठी 9 और सत्यजीत 11 रन बनाकर आउट हो गए और महाराष्ट्र की पारी लड़खड़ा गई मगर फिर गायकवाड़ ने अंकित बावने के साथ अर्धशतकीय साझेदारी की। अंकित 54 गेंद पर 37 रन बनाकर आउट हुए। लेकिन ऋतुराज गायकवाड़ नही रुके और यूपी के गेंदबाजों की पिटाई करते रहे उन्होंने सिर्फ 109 गेंद पर शतक पूरा किया। जिसके बाद तो उन्होंने रॉकेट की स्पीड से रन बनाए और अगली 50 गेंदों पर 120 रन बना डाले। अंत में वह 159 गेंदों पर 220 रन बनाकर नाबाद रहे। ऋतुराज भारत के लिए पहले ही अपना डेब्यू कर चुके है। उन्होंने भारत की ओर से एक वनडे और 9 टी20 इंटरनेशल का मुकाबला खेला है। मगर अभी डोमेस्टिक क्रिकेट वाली छाप छोड़ने में नाकामयाब रहे है। मगर ऐसी तगड़ी परफॉर्मेंस के साथ वह फिर भारतीय टीम में खेलते हुए नजर आ सकते है। 25 साल के ऋतुराज चेन्नई सुपर किंग्स के भावी कप्तान भी हो सकते है।

Video:

Leave a Comment