skip to content

बिहार में ठंड का कहर जारी, शीतलहर को लेकर अलर्ट जारी

Bihari News

बिहार में मौसम का मिजाज लगातार बदल रहा है. बदलते हालात के बीच में 72 घंटे तक ठंड से राहत मिलने की कोई संभावना नहीं है. इधर मौसम विभाग ने ठंड को ध्यान में रखते हुए दो दिनों तक शीतलहर को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है. साथ ही विभाग ने यह भी कहा है कि शुक्रवार के बाद से तापमान में और भी गिरावट देखने को मिलने वाला है. बिहार में जारी कड़ाके की ठंड से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. बता दें कि पिछले कुछ दिनों से प्रदेश में कोहरे का असर और भी बढ़ता ही जा रहा है. मौसम विभाग ने भी जो तस्वीर साझा की है उसमें पूरा बिहार कोहरे की चादर में लिपटा दिखाई दे रहा है.

मौसम विभाग की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार उत्तर भारत के अधिकांश इलाके कोहरे की चपेट में आ गए हैं. विजिबिलिटी घटने से विमान रेल और सड़क यातायात सेवाएं पूरी तरह से प्रभावित हुई है. ऐसे में मौसम विभाग ने साफ तौर पर कहा है कि प्रदेश में शीतलहर का कहर जारी है. ठंढ़ को लेकर स्थिती यह है कि अब रातों के साथ-साथ दिन भी सर्द हो जा रही है. राजधानी पटना का अधिकतम तापामने सामान्य से 7 डिग्री नीचे रहा है. इधर मध्य भारत की बात करें तो प्रति चक्रवात के कारण बिहार में अपने कुछ दिनों तक कड़ाके की ठंड रहने का अनुमान है. सूबे में सतह पर हवा की गति बहुत कम होने और आद्रता 90 प्रतिशत से अधिक रहने के कारण घना कोहरा छाया रहेगा.

Demo

इनदिनों प्रदेश में उत्तरी-पछुआ हवाओं का प्रवाह बना हुआ है. साथ ही हवा की रफ्तार 1.5 किमी ऊपर बना हुआ है. जिसकी गति 6 से 8 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार रे बह रही है. कहा यह जा रहा है कि बिहार के साथ ही मध्य भारत के ज्यादातर हिस्सों में इन दिनों कड़ाके की ठंढ़ पड़ने वाली है. जिसके कारण बिहार के 4 से 5 जिलों में शीतलहर जैसे हालात रहने वाले हैं. जिसके कारण खासकर न्यूनतम तापमान में 2 से 4 डिग्री तक की कमी देखने को मिलने वाली है. उत्तर भारत में शीतलहर का कहर जारी है. पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी से तापमान गिरावट देखी जा रही है. इन दिनों मैदानी इलाका कोहरे की चादर में लिपटा हुआ है. सीवान के जीरादोई में तापमान सबसे कम है. ट्रेन और फ्लाइट पर भी ठंड का असर पड़ रहा है. बिहार के सभी जिलों में स्कूल बंद कर दिए गए हैं. मौसम विभाग की तरफ से जारी अपडेट के अनुसार उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड से लेकर पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में घने कोहरे, शीतलहर के साथ प्रचंड ठंड पड़ रही है.

बिहार में शीतलहर के कहर के बीच गरीब मजदूरों का जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है. लगातार तापमान में भारी गिरावट दर्ज की जा रही है. बिहार के कई जिलों में जिला प्रशासन ने बढ़ते शीतलहर को देखते हुए विभिन्न स्थानों पर अलाव की व्यवस्था की है. दलित, गरीब समुदाय के मोहल्ले में लोग परिवार सहित आग जलाकर किसी तरह ठंड से बचने का प्रयास करते नजर आते हैं. गरीब तबके की महिलाओं का कहना है कि ठंड के कारण मजदूरी करने नहीं जा पा रहे हैं. जिससे भुखमरी की भी समस्या आ रही है, लेकिन भगवान के आगे किसी का नहीं चलता है. इसे लगातार ठंड और शीतलहर से लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त है. हालांकि जिला प्रशासन की तरफ से रैन बसेरो का निर्माण किया गया है ताकि सड़कों पर सोने वाले लोग इसमें जाकर रात में सो सके. बिहार समेत पूरे मध्य भारत में इन दिनों कड़ाके की ठंढ पड़ रही है.

Leave a Comment