skip to content

करने होंगे ये 5 बदलाव नहीं तो 2023 वर्ल्ड कप में हाथ लगेगी निराशा !

Bihari News

बारिश के चलते तीसरा वनडे भी रद्द हो गया और भारत को न्यूजीलैंड दौरे पर वनडे सीरीज 0-1 से गंवानी पड़ी. खैर रद्द नहीं भी होता तो भी भारत की हार निश्चित थी और तब भारत को 0-2 से हार मिलती. टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम 47.3 ओवरों में सिर्फ 219 रनों पर ही सिमट गई थी और लक्ष्य का पीछा करते हुए कीवी टीम का स्कोर 18 ओवर के बाद 1 विकेट पर 104 रन था लेकिन तभी बारिश आ गई और मैच रद्द करना पड़ा. इससे पहले दूसरे वनडे में भारतीय टीम की गेंदबाजी बुरी तरह फ्लॉप रही थी. यानी वनडे सीरीज में भारतीय टीम हर मोर्चों पर कीवी टीम से पीछे ही रही.

अगले साल भारत में वनडे वर्ल्ड कप भी होना है, इसलिए सभी टीम उसकी तैयारियों में जुटी हुई है. लेकिन भारतीय टीम को उससे पहले क्या करना चाहिए ताकि आगे निराशा हाथ ना लगे ? अभी हाल ही में टी20 वर्ल्ड कप संपन्न हुआ है, जिसमें भारतीय टीम ने ग्रुपस्टेज में तो बढ़िया खेल दिखाया और टॉप पर रही और सेमीफाइनल के लिए भी क्वालीफाई किया लेकिन सेमीफाइनल में हमें इंग्लैंड ने रौंद दिया. 10 विकेट से हार, क्या भूलने वाली बात है ? जबकि हम 1 साल पहले से तैयारियों और मानसिकता की बात कर रहे थे. तो आगामी वर्ल्ड कप(वर्ल्ड कप 2023) में भारतीय टीम को क्या और कितना बदलाव करना चाहिए ? इस लेख में हम उन 5 बदलावों का जिक्र करेंगे.

1.शिखर धवन या केएल राहुल ? कौन होंगे रोहित के पार्टनर ?

न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में टीम इंडिया की कमान बाएं हाथ के अनुभवी सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के हाथों में थी. धवन इससे पहले भी कई श्रृंखलाओं में रोहित शर्मा की अनुपस्थिति में टीम की कप्तानी कर चुके हैं, और वो भारत की टी20 और टेस्ट प्लान का भी हिस्सा नहीं हैं. इसलिए आगामी वनडे वर्ल्ड कप में शिखर धवन को ही रोहित का पार्टनर माना जा रहा है. हालांकि, केएल राहुल को बांग्लादेश के खिलाफ खेली जाने वाली वनडे सीरीज के लिए टीम में बतौर उपकप्तान शामिल किया गया है. ऐसे में राहुल के प्रदर्शन पर भी गौर किया जाएगा. इसलिए आगामी वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की परफेक्ट ओपनिंग जोड़ी क्या होगी, ये देखना दिलचस्प होगा. शुभमन गिल ने भी हाल के दिनों में खासकर वनडे क्रिकेट में बतौर ओपनर अपनी दावेदारी पेश की है.

2.ऋषभ पंत या संजू सैमसन ?

पिछले कुछ समय से ऋषभ पंत उम्मीद के मुताबिक़ प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं, खासकर सीमित ओवरों में. यही कारण है कि भारत की टी20 और वनडे टीम में उनके जगह पर खतरा मंडरा रहा है. टी20 वर्ल्ड कप 2022 के दौरान पंत को ज्यादा मौके नहीं मिले थे और न्यूजीलैंड के विरुद्ध टी20 और वनडे सीरीज में उनका बल्ला शांत रहा है. ऐसे में पंत की जगह संजू सैमसन को मौका दिया जा सकता है. 2015 में डेब्यू करने वाले संजू को भारत के लिए गिनेचुने ही मौके मिले हैं, फैंस में इस बात को लेकर काफी नाराजगी है. इसलिए आगामी वर्ल्ड कप में विकेटकीपरबल्लेबाज संजू सैमसन खेलते हुए नजर आ सकते हैं.

3.कुलदीप यादव को मिलेगा मौका

टी20 वर्ल्ड कप 2022 में युज्वेंद्र चहल को एक भी मैच में नहीं खिलाया गया. चहल का टी20 रिकॉर्ड भले ही अच्छा हो लेकिन वनडे क्रिकेट में उनकी जगह खतरे में पड़ सकती है. दूसरी तरफ कुलदीप यादव काफी लंबे समय से टीम से बाहर हैं लेकिन उन्होंने पिछले कुछ समय में बेहतरीन गेंदबाजी की है. इसलिए आने वाले समय में कुलदीप यादव को मौके दिए जा सकते हैं.

4.कमजोर गेंदबाजी आक्रमण

टीम इंडिया की बॉलिंग अटैक जसप्रीत बुमराह के बिना कमजोर नजर आ रही है. हमने इसका उदाहरण टी20 वर्ल्ड कप 2022 में देख लिया है. अर्शदीप सिंह, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर और शार्दुल ठाकुर जैसे गेंदबाज ज्यादा प्रभावी नजर नहीं आए हैं. हालांकि इसकी भी कोई गैरेंटी नहीं है कि बुमराह के आने से टीम की गेंदबाजी मजबूत हो जाएगी क्योंकि बुमराह भी लंबे समय से टीम से बाहर हैं और ये तो वक्त ही बताएगा कि बुमराह के आने से हमारी गेंदबाजी मजबूत होगी या नहीं ? इसलिए टीम नए विकल्पों की तलाश कर रही है. न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में टीम इंडिया की गेंदबाजी बेहद कमजोर नजर आई थी. इसलिए आने वाले समय में हम उमरान मलिक, कुलदीप सेन, आदि गेंदबाजों को एक्शन में देखने वाले हैं.

5.मध्य क्रम करना होगा मजबूत

न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में भारत के लिहाज से एक राहत की बात ये रही कि श्रेयस अय्यर कमजोरी उजागर होने के बावजूद क्रीज पर समय बिता रहे हैं. बाउंसर गेंदों का वो डट कर सामना कर रहे हैं, जो उनकी कमजोरी रही है. यह इसलिए जरुरी हो जाता है क्योंकि अब भारतीय टीम को रोहित शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली जैसे स्टार खिलाड़ियों के विकल्प ढूंढने होंगे क्योंकि ये आगामी वर्ल्ड कप के बाद अगला वर्ल्ड नहीं खेल सकेंगे. वाशिंगटन सुंदर ने भी सीरीज में अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है, वो बतौर स्पिनऑलराउंडर टीम के लिए काफी बड़ा योगदान देने वाले हैं.

तो ये 5 बदलाव करने होंगे भारत को, ताकि आगामी वर्ल्ड कप में निराशा हाथ ना लगे. आपके अनुसार भारतीय टीम को सबसे ज्यादा किस बदलाव की जरुरत है ? कमेंट में हमें जरुर बताएं.

Leave a Comment