skip to content

पटना के अक्षत रंजन ने मारी नीट में बाजी, बताया अपनी सफलता का राज

Bihari News

बुधवार को NTA के द्वार नीट का रिजल्ट जारी कर दिया गया हैं. जिसके बाद कई छात्रों जिन्होंने इस में सफलता हासिल की हैं उनके घर में जश्न का माहौल देखने को मिला हैं. बता दे कि परीक्षा 17 जुलाई 2022 को आयोजित किया गया था. ये परिक्षाए प्रवेश परीक्षा थी, जिनके माध्यम से छात्रों को उनके नंबर के आधार पर कॉलेज दी जाता हैं. वहीं इस परीक्षा में सफल होने वाले छात्र का नाम अक्षत रंजन हैं. इसने अपनी पढ़ाई पटना के आकाश इंस्टिट्यूट से की हैं. इस परीक्षा में उन्होंने 720 नंबर में से 700 अंक हासिल करते हुए प्रथम स्थान पर हैं.

अक्षत ने नीट में टॉप कर अपने माँ बाप समेत पूरे बिहार का नाम रौशन किया हैं. बता दे कि इन्होंने ऑल इंडिया में 64वॉ रैंक हासिल किया हैं. वहीं अगर उनके परिवार की बात करें तो इनके पिता इंजिनियर है और जबकि उनकी माँ गृहणी हैं. उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा कि NCERT की पुस्तक पढने से सफलता पाने की प्रतिशत काफी बढ़ जाती हैं और अच्छा भी रहता हैं. उन्होंने आगे बताया कि वे प्रतिदिन 10 घंटे तक पढ़ाई करते थे. इन्होने अपनी पढ़ाई में ज्यादा महत्व NCERT की पुस्तकों को दिया हैं. इनका कहना है कि उन्होंने अब तक कोई लक्ष्य नही रखा हैं की उन्हें MBBS में एडमिशन लेना हैं और आगे की पढ़ाई करनी हैं. पढ़ाई के साथ इन्हें खेल भी काफी पसंद हैं, लेकिन पढ़ाई के लिए उन्होंने खेल को साइड कर दिया था.

अक्षत रंजन से जब उनके पढ़ाई के बारे में बातें की गयी तो उन्होंने कहा- “कोरोना काल मे 2 साल ऑनलाइन क्लास करना पड़ा. ऑफलाइन क्लास बेहतर है. क्लास में शिक्षक के सामने पढ़ना सामने सवाल जवाब में बहुत कुछ सीखने को मिलता है. लेकिन मेरे शिक्षकों ने मेरी काफी मदद की है. मैं डेली 10 घंटे पढ़ाई करता था. एक्जाम में आप क्या करते हैं वह मायने रखता है. आगे एमबीबीएस करना है.”

अक्षत के नीट टोपर आने पर उसके शिक्षक डॉक्टर सुभाष सिंह का कहना है कि, “सभी छात्र शिक्षक के लिए बराबर होते हैं. लेकिन अक्षत शुरू से ही टॉपर बनने के लिए कोशिश करता था. हम बच्चों को जितना पढ़ा सकते हैं पढ़ाते हैं लेकिन आगे मेहनत उन्हें ही करनी होती है. अक्षत सिर्फ पढ़ाई करता था. शुरू से ही पढ़ाई लिखाई में काफी तेज था. अक्षत को पढ़ाई के साथ खेल में काफी रुचि है. ओलंपियाड में उसने मेडल जीता था.”

बता दे कि अपने बेटे की सफलता को देख कर अक्षत के पिता ने कहा कि “अक्षत के ने देश में बिहार का नाम रोशन किया है. अक्षत के प्रयासों से दूसरे छात्रों को प्रेरणा मिलेगी. जहां पर पढ़ाई करता है वहां पर एम्स की तस्वीर लगाकर रखी है. बस इनका सपना है अपनी मेहनत की बदौलत अपने सपनो को हासिल कर सके.”

वैसे छात्र जो नीट की परीक्षा का रिजल्ट देखना चाहते हैं. वे इसके अधिकारिक वेबसाइट neet.nta.nic.in पर जाकर चेक सकतें हैं.

Leave a Comment