Placeholder canvas

बाप से भी आगे निकला बेटा ! टेस्ट क्रिकेट में ऐसा करने वाली दूसरी बाप-बेटे की जोड़ी

Bihari News

वेस्टइंडीज की टीम जिम्बाब्वे दौरे पर है, यहां दोनों देशों के बीच 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जा रही है. बुलवायो के कुईंस स्पोर्ट्स क्लब में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज के युवा सलामी बल्लेबाज तेजनारायण चन्द्रपॉल ने दोहरा शतक जड़कर बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है.

तेजनारायण ने अपने करियर के पहले शतक को दोहरे शतक में तब्दील करते हुए नाबाद 207 रनों की पारी खेली. चन्द्रपॉल ने 467 गेंदों का सामना किया और अपनी पारी में 16 चौके और 3 छक्के लगाए. चन्द्रपॉल नाम से अगर आपको कुछ याद नहीं आया तो हम आपको बता देते हैं. तेजनारायण चन्द्रपॉल के पिता का नाम है शिवनारायण चन्द्रपॉल, जो वेस्टइंडीज के दिग्गज क्रिकेटर रह चुके हैं और दिलचस्प बात ये भी है कि पिता शिवनारायण भी वेस्टइंडीज के लिए ओपनिंग करते थे और अब उनका बेटा भी विंडीज टीम के लिए ओपन कर रहा है और पिता की विरासत को संभाल रहा है. खास बात ये है कि अपने करियर का तीसरा टेस्ट मैच खेल रहे तेजनारायण चन्द्रपॉल ने पिता शिवनारायण के 203 के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट स्कोर को भी पीछे छोड़ दिया.

पिता शिवनारायण चन्द्रपॉल ने 31 मार्च, 2005 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 203 रनों की पारी खेली थी. करियर का पहला दोहरा शतक जड़ने के बाद तेजनारायण और शिवनारायण के बाप-बेटे की जोड़ी एक खास लिस्ट में जगह बना चुकी है.

वेस्टइंडीज के लिए खेलते हुए ऐसा पहली बार हुआ है कि बाप-बेटे की जोड़ी ने दोहरा शतक लगाया हो, इससे पहले वर्ल्ड क्रिकेट में पाकिस्तान के हनीफ मोहम्मद और शोएब मोहम्मद की जोड़ी ने ऐसा कारनामा किया था. पाकिस्तान के बाप-बेटे की जोड़ी विश्व क्रिकेट में ऐसा करने वाली पहली जोड़ी बनी थी और अब वेस्टइंडीज के बाप-बेटे की जोड़ी ने यह कमाल किया है. यही नहीं यह वेस्टइंडीज की पहली बाप-बेटे की जोड़ी है, जिसने टेस्ट क्रिकेट में शतक जड़ा है. वहीं यह कारनामा करने वाली दुनिया की यह 12वीं जोड़ी है.

टेस्ट क्रिकेट में दोहरा शतक जड़ने वाली बाप-बेटे की जोड़ी – 

हनीफ मोहम्मद-शोएब मोहम्मद(पाकिस्तान)

शिवनारायण चन्द्रपॉल-तेजनारायण चन्द्रपॉल(वेस्टइंडीज)

टेस्ट क्रिकेट में शतक जड़ने वाली बाप-बेटे की जोड़ी –

लाला अमरनाथ-मोहिंदर अमरनाथ(भारत)
क्रिस ब्रॉड-स्टुअर्ट ब्रॉड(इंग्लैंड)
हनीफ मोहम्मद-शोएब मोहम्मद(पाकिस्तान)
वॉल्टर हैडली-रिचर्ड हैडली(न्यूजीलैंड)
इफ्तिखार अली खान पटौदी-मंसूर अली खान पटौदी(भारत)
ज्योफ मार्श-शॉन मार्श(ऑस्ट्रेलिया)
नसर-मुदस्सर(पाकिस्तान)
केन रदरफोर्ड-हामिश रदरफोर्ड(न्यूजीलैंड)
विजय मांजरेकर-संजय मांजरेकर(भारत)
डेव नर्स-डडली नर्स(दक्षिण अफ्रीका)
रॉड लाथम-टॉम लाथम(न्यूजीलैंड)
शिवनारायण चन्द्रपॉल-तेजनारायण चन्द्रपॉल(वेस्टइंडीज).

चल रहे वेस्टइंडीज बनाम जिम्बाब्वे मैच की बात करें तो तेजनारायण चन्द्रपॉल के नाबाद दोहरे शतक और कप्तान क्रैग ब्रेथवेट के 182 रनों की पारी की बदौलत वेस्टइंडीज ने अपनी पहली पारी 447/6 के स्कोर पर घोषित की. दूसरे दिन का खेल खत्म खत्म होने तक जिम्बाब्वे की टीम ने 3 विकेट खोकर 114 रन बना लिए थे.

क्या आपको शिवनारायण चन्द्रपॉल और उनके बेटे तेजनारायण चन्द्रपॉल के बारे में पता था ? कमेंट में हमें जरुर बताएं.

Leave a Comment