Placeholder canvas

धोनी ने लॉन्च किया ‘ड्रोनी’, कीटनाशक का छिड़काव करने में काम आएगा यह ड्रोन

Bihari News

टीम इंडिया के पूर्व स्टार बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने बीते दिन रविवार को गरुड़ एयरोस्पेस द्वारा निर्मित उन्नत सुबिधाओं के साथ ड्रोन को लॉन्च किया हैं. बता दे कि यह ड्रोन ‘मेड इन इंडिया कैमरा ड्रोन’ है जिसका नाम ‘ड्रोनी’ रखा गया हैं. मिली जानकारी के अनुसार कंपनी ने ‘ड्रोनी’ के साथ कंज्युमर ड्रोन मार्केट में कदम रखा हैं. वहीं गरुड़ एयरोस्पेस के ब्रांड एंबेसडर महेंद्र सिंह धोनी हैं. इस ड्रोन में कई एडवांस्ड फीचर्स दिए गए हैं.

द्रोणी को लेकर ANI के द्वारा एक रिपोर्ट जारी किया गया हैं. इस रिपोर्ट में यह बताया गया है कि महेंद्र सिंह धोनी गरुड़ एयरोस्पेस के ब्रांड एंबेसडर हैं. अब कंपनी सोलर पैनल क्लीनिंग, खेत में पेस्टिसाइड स्प्रे करने, इंड्रस्ट्रियल पाइपलाइन का इंस्पेक्शन, मैपिंग, सर्वें, पब्लिक अनाउंसमेंट और डिलीवरी सर्विस के लिए ड्रोन सेवा उपलब्ध करवाई जाएगी.

बता दे कि ‘ड्रोनी ‘ को चेन्नई में हुए इवेंट में लॉन्च किया गया हैं. इसका उपयोग कृषि सेक्टर में किया जायेगा. ख़ास तौर पर स्प्रे करने वाले कामों में इसका अधिक उपयोग किया जायेगा. किसान ड्रोन के अन्दर यह क्षमता है कि वह हर रोज 30 एकड़ जमीन पर पेस्टीसाइड कर सकता हैं. इस इवेंट में धोनी ने बताया कि उनकी दिलचस्पी खेती में लॉकडाउन के दौरान बढ़ी थी. इसके साथ ही उन्होंने खेती में ड्रोन की उपयोगिता पर भी जोर दिया. वहीं ऑफिशियल स्टेटमेंट में कंपनी के फाउंडर और सीईओ Agnishwar Jayaprakash ने यह जानकारी दी है कि इस ड्रोन को 2022 के अंत तक लोगों के लिए उपलब्ध करा दिया जायेगा. उन्होंने कहा,” हमारा ड्रोनी ड्रोन पूर्ण रूप से स्वदेशी हैं और इसे विभिन्न निगरानी उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता हैं. यह तकनीक से कुशल, निर्बाध और उच्च गुणवत्ता वाला हैं. मेड इन इंडिया ड्रोन बना कर हम ड्रोन की मांग के लिए न केवल आत्मनिर्भर बनने की उम्मीद करते है बल्कि भारत की गुणवत्ता, सुरक्षित और ड्रोन-आधारित समाधानों के केंद्र के रूप में वैश्विक मानचित पर रखना चाहते हैं. मेक इन इंडिया ड्रोन के जरिए ड्रोन के क्षेत्र में कंपनी देश भर को आत्मनिर्भर बनाना चाहती हैं. ये यूजर्स को सेफ और सिक्योर ड्रोन प्राइवेट करवाएगी. इस बीच , भारतीय ड्रोन एसोसिएशन के अध्यक्ष और भारतीय वायु सेना में पूर्व विंग कमांडर, आनंद कुमार दास ने एएनआई से कहा कि मंच ड्रोन उद्योग को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगा.बता दे कि चेन्नई में ग्लोबल ड्रोन एक्सपो में 1500 से ज्यादा प्रतिभागियों और 28 से ज्यादा राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने भाग लिया था. ने भाग लिया था. इसमें 14 इंटरनेशनल ड्रोन कंपनियों ने भी भाग लिया था. इस इवेंट में कई नए ड्रोन का शोकेस किया गया था. उन्होंने निवेशकों, युवाओं और हितधारकों को आकर्षित किया और ड्रोन उद्योग के लिए एक मार्ग की रूपरेखा तैयार की.

Leave a Comment