skip to content

IPL 2023 : यह धोनी का आखिरी आईपीएल है ? हैदराबाद के खिलाफ मैच के बाद बताया प्लान

Bihari News

चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान और दिग्गज विकेटकीपर-बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का यह आखिरी आईपीएल है, इसका संकेत उन्होंने खुद दिया है. शुक्रवार, 21 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद(SRH) के खिलाफ मुकाबले के बाद पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में धोनी ने इसका संकेत दिया. धोनी की बातों से ऐसा लगा कि वो अपने आईपीएल करियर को अलविदा कहने का मन बना चुके हैं. चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मुकाबले के बाद दिग्गज विकेटकीपर-बल्लेबाज ने कहा कि सभी अच्छी चीजों का अंत होता है. उन्होंने कहा कि वह अपने करियर के अंतिम चरण में हैं.

चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 15 अगस्त, 2020 को अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की थी. धोनी उसके बाद से सिर्फ आईपीएल के दौरान एक्शन में नजर आते हैं लेकिन शायद अब धोनी अगले सीजन से नहीं खेलेंगे. 41 साल के हो चुके CSK के कप्तान एमएस धोनी मैदान पर अभी भी अपना सर्वश्रेष्ठ दे रहे हैं. बल्ले से योगदान के अलावा विकेटों के पीछे धोनी अभी भी बेहतरीन काम कर रहे हैं. SRH के मुकाबले में उन्होंने विकेटों के पीछे से 2 शानदार कैच लपके और एक स्टंपिंग भी की.

सनराइजर्स के खिलाफ पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में धोनी ने कहा, “जो कुछ भी कहा और किया गया है, यह मेरे करियर का आखिरी चरण है, मैं कितना भी लंबा खेलूं..कई साल बाद, प्रशंसकों को यहां आने और देखने का
मौका मिला है, यहां आकर अच्छा लग रहा है.. भीड़ ने हमें बहुत प्यार और स्नेह दिया है.. बल्लेबाजी के पर्याप्त मौके नहीं मिल रहे, लेकिन कोई शिकायत नहीं है.”

धोनी के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ है.

हैदराबाद के खिलाफ चेन्नई की शानदार जीत 

सनराइजर्स हैदराबाद बनाम चेन्नई सुपरकिंग्स मुकाबले की बात करें तो धोनी ने टॉस जीतकर हैदराबाद की टीम को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया. चेन्नई के गेंदबाजों ने अपने कप्तान का फैसला सही साबित करते हुए विपक्षी टीम को निर्धारित 20 ओवरों में सिर्फ 134 रनों पर रोक दिया. CSK की तरफ से स्टार ऑलराउंडर रवीन्द्र जडेजा ने 3 विकेट चटकाए, अपने कोटे के 4 ओवरों में उन्होंने सिर्फ 22 रन खर्च किए. हैदराबाद की तरफ से सलामी बल्लेबाज अभिषेक शर्मा ने सबसे अधिक 34 रन बनाए थे.
135 रनों के छोटे से लक्ष्य को चेन्नई की टीम ने सलामी बल्लेबाज डिवॉन कॉनवे(77*) के नाबाद अर्धशतकीय पारी की बदौलत 8 गेंद रहते हासिल कर लिया. सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ ने भी 35 रन बनाए थे लेकिन रन-आउट हो गए थे. चेन्नई ने अजिंक्य रहाणे(9), और अम्बाती रायुडु(9) के रूप में 2 और विकेट खोए थे. इस तरह चेन्नई सुपरकिंग्स ने 7 विकेट से जीत दर्ज की. यह टूर्नामेंट में चेन्नई की चौथी जीत है और वो पॉइंट्स टेबल में तीसरे नंबर पर पहुंच गई है.

Leave a Comment