skip to content

इंटरनेशनल क्रिकेट से मुरली विजय का संन्यास

Bihari News

भारतीय टीम के बल्लेबाज Murali Vijay ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया है. सोमवार, 30 जनवरी को अपने आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट पर 38 वर्षीय मुरली विजय ने संन्यास की घोषणा की. भारत की तरफ से 61 टेस्ट और 17 वनडे इंटरनेशनल खेल चुके मुरली विजय ने अपना पहला टेस्ट मैच 6 नवंबर, 2008 को ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध खेला था वहीं आखिरी टेस्ट दिसंबर, 2018 में. इसके बाद से वो टीम इंडिया में वापसी नहीं कर पाए.

मुरली विजय ने कहा कि वह इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर रहे हैं लेकिन क्रिकेट जगत में नए मौके आजमाएंगे. मुरली विजय ने कहा कि वह आगे भी क्रिकेट में खुद को चैलेंज करते रहेंगे. विजय ने कहा कि उनका मानना है कि क्रिकेटर के तौर पर यह उनके लिए नए सफर की शुरुआत होगी. मुरली ने लिखा, “2002 से 2018 तक का समय मेरे जीवन का सबसे अच्छा समय रहा. इतने बड़े लेवल पर देश का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए गर्व की बात है.”

मुरली विजय ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI), तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन(TNCA), चेन्नई सुपरकिंग्स(CSK) और चेम्प्लास्ट सैनमार का शुक्रिया अदा किया. इसके अलावा उन्होंने अपने साथी खिलाड़ियों और कोचों को भी धन्यवाद कहा.

मुरली विजय के क्रिकेट करियर पर नजर डालें तो उन्होंने 61 टेस्ट मैचों की 105 टेस्ट पारियों में 38.28 की औसत से कुल 3982 रन बनाए हैं. उनके बल्ले से इस दौरान 12 शतक और 15 अर्धशतक निकले. वहीं 17 वनडे इंटरनेशनल में मुरली विजय ने 21.18 की औसत से 339 रन बनाए हैं.

Leave a Comment