Placeholder canvas

वनडे क्रिकेट के वो दिग्गज खिलाड़ी, जिन्होंने बनाए हजारों रन लेकिन नहीं लगा पाये एक भी शतक

Bihari News

वनडे इंटरनेशनल (ODI) क्रिकेट में शतक लगाना हर बल्लेबाज का सपना होता है। कुछ दिग्गज खिलाड़ियों ने वनडे में बहुत सारे शतक लगाए हैं, जैसे कि सचिन तेंदुलकर ने 49 शतक वही विराट कोहली ने 46 तो रोहित शर्मा ने 30 शतक लगाए है। हालांकि, कुछ खिलाड़ियों ने बेहतरीन बल्लेबाजी के बावजूद भी कभी वनडे में शतक नहीं लगाया है। यह बल्लेबाज़ किसी भी सिचुएशन से अपनी टीम को मैच तो जीता सकते थे मगर कभी भी सेंचुरी नहीं बना पाए। आइये आपको बताते है ऐसे ही कुछ महान खिलाडियों के बारे में :-

  • माइकल वॉन – इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने अपने करियर में 86 वनडे मैच खेले और 27.15 की औसत से 1982 रन बनाए। हालांकि, वह वनडे क्रिकेट में एक भी शतक नहीं लगा पाए। उनका उच्चतम स्कोर 90 रहा। वह बल्लेबाजी में उत्कृष्ट रहे और टेस्ट में उनके द्वारा 18 शतक लगाए गए।

  • दिनेश कार्तिक – भारतीय विकेटकीपर-बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने 94 वनडे मैचों में 30.20 की औसत से 1752 रन बनाए हैं। उन्होंने 9 अर्धशतक लगाए हैं लेकिन कभी एक भी शतक नहीं बनाया। कार्तिक का बेस्ट स्कोर 79 का रहा।

  • मिस्बाह उल हक – पाकिस्तान के दिग्गज बल्लेबाज और पूर्व – कप्तान मिस्बाह उल हक ने 162 वनडे मैचों में 43.40 की औसत से 5122 रन बनाए हैं। उन्होंने 42 अर्धशतक लगाए हैं, लेकिन एक भी शतक नहीं बनाया। वे टेस्ट में 10 शतक बनाने के लिए प्रसिद्ध हैं।

 

  • एंड्रयू जोन्स – न्यूजीलैंड के बल्लेबाज एंड्रयू जोन्स ने 87 वनडे मैचों में 35.69 की औसत से 2784 रन बनाए हैं। उन्होंने 25 अर्धशतक भी जड़े, लेकिन कभी भी शतक नहीं बनाया। उनका बेस्ट स्कोर 93 रन रहा है। टेस्ट में उन्होंने 7 शतक लगाए हैं।

  • इयान बॉथम – इंग्लिश खिलाड़ी इयान बॉथम को दुनिया के महान ऑलराउंडर में से एक माना जाता है। वनडे में उनका बेस्ट स्कोर 79 रन रहा है और उन्होंने 106 वनडे मैचों में 23.21 की औसत से 2113 रन बनाए हैं। उन्होंने 9 अर्धशतक लगाए हैं लेकिन एक भी शतक नहीं बनाया। टेस्ट में उन्होंने 14 शतक लगाए हैं और बहुत सारे उपलब्धियां हासिल की हैं।

इन खिलाड़ियों ने अपने बेहतरीन बल्लेबाजी के बावजूद वनडे में कभी भी शतक नहीं लगाया, लेकिन उनके योगदान को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। ये सभी खिलाडी अंत में बल्लेबाज़ी करने आते और टीम के लिए अच्छी पारियों को खेलने में माहिर थे और अपनी टीम के लिए महत्वपूर्ण रन बनाए। उन्होंने कई बड़े स्कोर बनाए और अपने दमदार प्रदर्शन से विश्व क्रिकेट के दर्शकों को खुश किया। उनमें से कई ने अपने देश को विजयी बनाने में अहम भूमिका निभाई और अपने टीम के लिए कई मैच जीताए। हालांकि, वनडे में शतक न लगाने के बावजूद वे अपने खास खेल के लिए याद किए जाते हैं। उनके योगदान ने वनडे क्रिकेट को रोचक बनाया और एक फिनिशर के तौर पर उन्हें स्थापित किया ये खिलाड़ियां अपनी खासियत से लोगों के दिलों में बस गए और उन्हें हमेशा याद किया जाएगा।

Leave a Comment