Placeholder canvas

16 साल के फेईरोजाम सिंह ने फर्स्ट क्लास डेब्यू पर किया कमाल, ऐसे करने वाले चौथे भारतीय बने

Bihari News

अर्जुन तेंदुलकर ने अपने पिता के ही नक्शोकदम पर चलते हुए अपने रणजी डेब्यू पर शतक जड़ दिया. राजस्थान के खिलाफ मुकाबले में गोवा की तरफ से अपना डेब्यू मैच खेल रहे अर्जुन नंबर 7 पर बल्लेबाजी करने उतरे थे, जहां उन्होंने सुयश प्रभुदेसाई के साथ मिलकर 6ठे विकेट के लिए 221 रनों की साझेदारी की.

इस दौरान उन्होंने 120 रन बना दिए. फर्स्ट क्लास डेब्यू पर शतक जड़कर वो अपने पिता सचिन तेंदुलकर के फेरिस में शामिल हो गए. खैर ये तो अर्जुन तेंदुलकर की बात हुई, लेकिन एक और खिलाड़ी है, जिसने अपने रणजी डेब्यू को यादगार बनाया है साथ ही रिकॉर्ड बुक में भी अपना नाम जुड़वा लिया है. यह खिलाड़ी मणिपुर की तरफ से खेलता है. मणिपुर के लिए अपना पहला फर्स्ट क्लास मैच खेल रहे इस 16 वर्षीय खिलाड़ी ने सिक्किम के खिलाफ 9 विकेट चटकाकर इतिहास रच दिया. प्रथम श्रेणी पदार्पण में 9 विकेट चटकाने वाले वो सिर्फ चौथे भारतीय गेंदबाज बन गए हैं. इस गेंदबाज का नाम है फेईरोजाम सिंह, जिन्होंने 22 ओवर में 5 मेडन सहित 69 रन खर्च करते हुए 9 विकेट हासिल किए, जिससे वो वसंत रंजाने, अमरजीत सिंह और संजय यादव जैसे खिलाड़ियों की एलिट लिस्ट में शामिल हो गए हैं. इन तीनों ने अपने फर्स्ट क्लास डेब्यू पर 9 विकेट चटकाए थे. वसंत रंजाने ने 1956-57, अमरजीत सिंह ने 1971-72 , और संजय यादव ने 2019-20 सीजन में ये कारनामा किया था.

फेईरोजाम सिंह की शानदार गेंदबाजी की बदौलत मणिपुर ने सिक्किम को 220 रनों पर समेट दिया. यह फर्स्ट क्लास क्रिकेट इतिहास में किसी भारतीय खिलाड़ी का 10वां सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है और डेब्यू में चौथा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. सिक्किम की टीम ने 58 रन के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया और फेईरोजाम ने विकेट चटकाने शुरू कर दिए तब तक जब तक सिक्किम की टीम सिमट नहीं गई. फेईरोजाम सिंह फर्स्ट क्लास डेब्यू में सभी 10 विकेट हासिल करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बनने से चूक गए लेकिन 9 विकेट लेकर भी खूब सुर्खियां बटोर रहे हैं. 9 विकेट तो फेईरोजाम ने लिए 1 विकेट रेक्स राजकुमार को मिला, हालांकि इसमें भी फेईरोजाम ने कैच लेकर अहम भूमिका अदा की. अभी तक सिर्फ 2 खिलाड़ी ही हुए हैं, जिन्होंने फर्स्ट क्लास डेब्यू पर सभी 10 विकेट हासिल किए हैं, दोनों इंग्लैंड के ही हैं. एक का नाम है एल्बर्ट मोस और दूसरे का नाम फिट्ज हिंड्स है.

आपको क्या लगता है ? क्या फेईरोजाम सिंह रणजी डेब्यू के अनुरूप पूरे टूर्नामेंट में प्रदर्शन करने में कामयाब हो पाएंगे या नहीं ? कमेंट में जरुर बताएं. क्रिकेट से जुड़े इंटरेस्टिंग ख़बरों के लिए फोलो करें चक दे पोर्टल.

Leave a Comment