skip to content

WTC FINAL 2023 के लिए भारत की संभावित प्लेइंग-11

Bihari News

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(BCCI) ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 7 जून से शुरू होने वाले वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे चक्र(WTC 2021-23) के फाइनल मुकाबले के लिए भारत की 15-सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया है. इंग्लैंड में लंदन के ‘द ओवल’ में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 7-11 जून तक वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2021-23 चक्र का फाइनल खेला जाएगा. पिछले चक्र में भी फाइनल में टीम इंडिया पहुंची थी, जहां उन्हें न्यूजीलैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा था लेकिन इस बार मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से है. इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने बारिश के मद्देनजर 12 जून को रिजर्व डे भी रखा है. भारत लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंची है और इस बार ख़िताब जीतने का भरसक कोशिश करेगी.

क्रिकेट एक्सपर्ट अभी से संभावित प्लेइंग-11 चुन रहे हैं और विशलेषण कर रहे हैं. इसी बीच हमने भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले बहुप्रतीक्षित फाइनल मुकाबले के लिए भारत की संभावित प्लेइंग 11 चुनी है.

एक नजर हमारे संभावित प्लेइंग 11 पर :-

1. Rohit Sharma(Captain)

टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा बल्लेबाजी क्रम की शुरुआत करेंगे और ऑस्ट्रेलिया की घातक गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ काउंटर अटैक करने की तरफ देखेंगे. इंग्लैंड के 2021-22 दौरे पर रोहित शर्मा ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 4 टेस्ट मैचों में 52.57 की औसत से 368 रन बनाए थे. WTC 2021-23 चक्र में उन्होंने 700 से ऊपर रन बनाए हैं इसलिए टीम मैनेजमेंट और फैंस को उनसे काफी उम्मीदें होंगी.

2. Shubman Gill

भारतीय टीम मैनेजमेंट को रोहित शर्मा के पार्टनर के रूप में शुभमन गिल और केएल राहुल में से किसी एक को चुनना होगा. हालांकि राहुल ही टीम के फर्स्ट चॉइस ओपनर थे लेकिन गिल ने लाजवाब प्रदर्शन करते हुए राहुल का पत्ता काट दिया है. अब चयनकर्ता चाहकर भी गिल को नजरंदाज नहीं कर सकते. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाल ही में समाप्त हुए बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के चौथे और अंतिम टेस्ट में शुभमन गिल ने शानदार शतक लगाया था.
गिल ने अभी तक के अपने छोटे से टेस्ट करियर में काफी प्रभावित किया है. 15 टेस्ट मैचों में उन्होंने 2 शतकों के साथ 890 रन बनाए हैं. ओवल में खेले जाने वाले फाइनल में गिल का खेलना तय माना जा रहा है.

3. Cheteshwar Pujara

चेतेश्वर पुजारा टीम इंडिया के टेस्ट स्पेशलिस्ट बल्लेबाज हैं और वो ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध फाइनल में भारतीय बल्लेबाजी क्रम के जान हैं. पुजारा वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप(WTC 2021-23) के दूसरे चक्र में भारत के टॉप बल्लेबाजों में से एक हैं ; उन्होंने 16 मैचों में 887 रन बनाए हैं. वहीं इंग्लैंड के अंदर 15 टेस्ट मैचों में उन्होंने 829 रन स्कोर किए हैं.

4. Virat Kohli

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली जब खेलते हैं तो सबसे ज्यादा उम्मीद उन्हीं से रहती है. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सम्पन्न हुए बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में अहमदाबाद टेस्ट के दौरान कोहली के बल्ले से शतक निकला था.
ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध उनका टेस्ट रिकॉर्ड बेमिसाल रहा है. कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 24 टेस्ट मैचों में 8 शतकों के साथ 1979 रन बनाए हैं. मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप चक्र में विराट ने 16 मैचों में 869 रन बनाए हैं. वो भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले बहुप्रतीक्षित फाइनल मुकाबले में एक यादगार प्रदर्शन करने की तरफ देख रहे होंगे.

5. Ajinkya Rahane

अजिंक्य रहाणे की करीब 15 महीने के बाद भारत की टेस्ट टीम में वापसी हुई है. उन्होंने आखिरी बार भारत के लिए जनवरी, 2022 में कोई टेस्ट मुकाबला खेला था, इसके बाद उन्हें टीम से ड्रॉप कर दिया गया था. टीम से ड्राप होने के बाद रहाणे ने भारत की प्रतिष्ठित रणजी ट्रॉफी में जबरदस्त प्रदर्शन किया और आईपीएल के 16वें सीजन(IPL 2023) में कमाल की बल्लेबाजी कर रहे हैं. सही मायने में देखा जाए तो आईपीएल में दमदार प्रदर्शन के फलस्वरूप ही उनको WTC फाइनल के लिए टेस्ट स्क्वाड में शामिल किया गया है. और उनका खेलना भी तय माना जा रहा है. रहाणे को केएल राहुल से टक्कर मिल सकती है लेकिन उन्हें इंग्लैंड में खेलने का अनुभव ज्यादा है, इसलिए राहुल के ऊपर उन्हें तरजीह दी जा सकती है.

6. Ravindra Jadeja

रवीन्द्र जडेजा बीते कुछ सालों में टेस्ट क्रिकेट के एक प्रीमियर ऑलराउंडर के रूप में उभरे हैं. इसलिए प्लेइंग-11 में उनका स्थान तो पक्का है.
बाएं हाथ के जडेजा भारतीय बल्लेबाजी क्रम के अहम कड़ी भी हैं. पिछली बार जब भारत ने इंग्लैंड का दौरा किया था, जडेजा ने शतक भी जड़ा था. इंग्लैंड की पिच और कंडीशन भले ही स्पिन को सूट ना करती हो लेकिन फिर भी जडेजा रनों को रोकने में अहम भूमिका निभाएंगे साथ ही जब गेंद पुरानी होगी और तेज गेंदबाज थक जाएंगे, जडेजा उस वक्त काफी उपयोगी साबित होंगे.
मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप चक्र में जडेजा ने 673 रन बनाने के अलावा 43 विकेट चटकाए हैं.

7. KS Bharat

युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज केएस भरत ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी टेस्ट सीरीज के दौरान अपना टेस्ट अंतराष्ट्रीय डेब्यू किया है. ऋषभ पंत की अनुपस्थिति में वह टेस्ट क्रिकेट में भारत के फर्स्ट चॉइस विकेटकीपर हैं.

प्लेइंग-11 में जगह पाने के लिए उनको केएल राहुल से कम्पटीशन मिल सकता है लेकिन टेस्ट क्रिकेट में एक स्पेशलिस्ट विकेटकीपर चाहिए होता है, इसलिए भरत को तरजीह मिल सकती है. भारतीय टीम वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल जैसे बड़े मौके पर जोखिम लेना नहीं चाहेगी. 4 टेस्ट मैचों में भरत ने 101 रन बनाए हैं और विकेटों के पीछे से 8 शिकार किए हैं.

8. Shardul Thakur

रविचंद्रन अश्विन की जगह शार्दुल ठाकुर प्लेइंग-11 में जगह बना सकते हैं, यह चयनकर्ताओं के लिए एक बड़ी कॉल होगी. पहले भी इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया 4 पेसर्स और 1 स्पिनर के कॉम्बिनेशन के साथ उतरी है और इंग्लैंड में होने वाले WTC फाइनल में भी यही फार्मूला रखना चाहेगी.

इंग्लैंड की सीमर-फ्रेंडली कंडीशन में अश्विन को बाहर बैठना पड़ सकता है और उनकी जगह शार्दुल ठाकुर ले सकते हैं. इंग्लैंड में ठाकुर का रिकॉर्ड शानदार है, 3 टेस्ट मैचों में 8 विकेट. और बल्ले से भी उन्होंने काफी जरुरी योगदान दिया है. इंग्लैंड में उनके बल्ले से 2 अर्द्धशतक आए हैं.

9. Mohammad Shami

जसप्रीत बुमराह की गैरमौजूदगी में मोहम्मद शमी नई गेंद से टीम इंडिया की गेंदबाजी क्रम की अगुवाई करेंगे. दिग्गज तेज गेंदबाज शमी को इंग्लिश कंडीशन का भरपूर अनुभव है. उन्होंने इंग्लैंड में 13 टेस्ट मैचों में 38 विकेट चटकाए हैं. मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप चक्र में शमी ने 12 मैचों में 41 विकेट झटके हैं.
बीते कुछ समय से शमी ने अपनी बल्लेबाजी में सुधार किया है और लोअर ऑर्डर में बल्ले से भी टीम के लिए काफी महत्वपूर्ण योगदान दिया है.

10. Umesh Yadav

टीम मैनेजमेंट को उमेश यादव और जयदेव उनादकट में से किसी एक को चुनना होगा. जबकि बाएं हाथ के जयदेव गेंदबाजी में जरुर विविधता लाएंगे लेकिन अनुभव को देखते हुए उमेश यादव को तरजीह दी जा सकती है.
उमेश यादव ने इंग्लैंड में 2 टेस्ट खेलते हुए 9 विकेट चटकाए हैं. भारतीय टीम को फाइनल में पहुंचाने में उमेश यादव ने भी महत्वपूर्ण योगदान दिया है. मौजूदा वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप चक्र में उनके नाम 20 विकेट दर्ज हैं. यादव बल्ले से भी सक्षम हैं और उनके अंदर बड़े-बड़े हिट लगाने की क्षमता है. इन्हीं सब कारणों से उन्हें तरजीह दी जा सकती है.

11. Mohammad Siraj

नए गेंद के साथ मोहम्मद सिराज ही मोहम्मद शमी के साथी होंगे, जो टीम को प्रारंभिक सफलता दिलाएंगे. बीते कुछ सालों में सिराज भारतीय टीम के लीड गेंदबाज के रूप में उभरे हैं और इंग्लैंड में उनका रिकॉर्ड भी शानदार है. उन्होंने इंग्लिश कंडीशन में 5 टेस्ट मैचों में 18 विकेट चटकाए हैं. मौजूदा WTC साइकिल में उन्होंने 13 मैचों में 31 विकेट झटके हैं.

भारत की संभावित प्लेइंग 11 : –
Rohit Sharma (c), Shubman Gill, Cheteshwar Pujara, Virat Kohli, Ajinkya Rahane, Ravindra Jadeja, KS Bharat (wk), Shardul Thakur, Mohammad Shami, Mohammed Siraj, Umesh Yadav.

क्या आप हमारे द्वारा चुने गए प्लेइंग-11 से संतुष्ट हैं अगर नहीं तो आप अपनी प्लेइंग 11 हमें बता सकते हैं.

Leave a Comment