skip to content

ASIA CUP 2022 : कप्तान रोहित और कोच राहुल द्रविड़ को जल्द ढूंढने होंगे इन सवालों के जवाब, हांगकांग के खिलाफ दरार हुए बड़े

Bihari News

एशिया कप 2022 में भारतीय टीम ने बुधवार को अपने दूसरे और अंतिम ग्रुप मुकाबले में हांगकांग को 40 रनों से हराकर सुपर-4 के लिए क्वालीफाई कर लिया है. इससे पहले उन्होंने पाकिस्तान को 5 विकेट से हराया था. हांगकांग के खिलाफ जीत के बाद भारत सुपर-4 में जाने वाली दूसरी टीम बनी. सबसे पहले अफगानिस्तान ने क्वालीफाई किया. खैर बात कर रहे हैं टीम इंडिया के बारे में.
हांगकांग के खिलाफ भारत ने भले ही 40 रनों से जीत दर्ज कर ली लेकिन मैच में भारतीय टीम मेमन मौजूद दरार यानी खामियां निकलकर के सामने आईं.

स्पिनरों ने किया परेशान, टॉप ऑर्डर क्यों हो रहे फ्लॉप ?

बल्लेबाजी से शुरुआत करते हैं, हांगकांग के खिलाफ टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 2 विकेट खोकर 192 रन बनाए लेकिन इस स्कोर तक पहुंचाने में बल्लेबाज Suryakumar Yadav का बड़ा योगदान रहा, हालांकि Virat Kohli ने भी अर्धशतक लगाया लेकिन वो टी20 और नई भारतीय मानसिकता के अनुरूप नहीं था. विराट ने 44 गेंदों का सामना किया और सिर्फ 59 रन ही बना पाए दूसरी तरफ सूर्यकुमार ने 26 गेंदों में 68 रनों की पारी खेली. सलामी बल्लेबाज KL Rahul भी बेरंग नजर आए. उन्होंने 39 गेंदों का सामना किया और सिर्फ 36 रन बनाकर आउट हो गए. कप्तान Rohit Sharma भी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे, हालांकि उन्होंने टी20 वाली मानसिकता दिखाई. रोहित 13 गेंदों में 21 रन बनाकर आउट हुए, इस दौरान उन्होंने 2 चौके और 1 छक्का भी लगाया.

भारत ने भले ही अपने दोनों मुकाबले जीते हों लेकिन वो अल्ट्रा-अग्ग्रेसिव मानसिकता की जो बात हो रही है, वो बल्लेबाजी में नजर नहीं आई, फिर चाहे वो पाकिस्तान के अखिलाफ़ हो या फिर हांगकांग के खिलाफ. अगर सूर्या की पारी को हटा दें तो भारतीय टीम हांगकांग से मैच हार भी सकती थी. हांगकांग और भारत को अगर कोई अलग करता है तो वो सूर्यकुमार यादव ही हैं. भारतीय बल्लेबाज खासकर विराट कोहली और केएल राहुल हांगकांग के स्पिनरों के सामने संघर्ष करते नजर आए, जो चिंता की बात है, क्योंकि सुपर-4 में टीमों जैसे पाकिस्तान और अफगानिस्तान के पास जबरदस्त स्पिन अटैक है. वहीं श्रीलंका और बांग्लादेश के पास भी बेहतरीन स्पिन गेंदबाज हैं. इसलिए भारतीय टीम को इस पर गहरा विचार करना होगा.

गेंदबाज भी खा रहे हैं रन

अब गेंदबाजी की बात करते हैं तो हांगकांग के खिलाफ मैच में तेज गेंदबाज Avesh Khan को 4 ओवरों में 53 रन पड़े जबकि Arshdeep Singh ने भी 44 रन खर्च कर डाले. हांगकांग के खिलाफ पिछले मैच के हीरो रहे Hardik Pandya को आराम दिया गया था और उनकी कमी खली भी.
पाकिस्तान के खिलाफ मैच में भी आवेश खान को 9.5 की इकॉनोमी से रन पड़े थे. तो सवाल है कि कौन होंगे भारत के तीसरे तेज गेंदबाज ? क्योंकि सिर्फ एशिया कप की ही सिर्फ बात नहीं है, अक्टूबर-नवंबर में इसी साल ऑस्ट्रेलिया में ICC T20 वर्ल्ड कप भी खेला जाएगा. इसलिए कप्तान रोहित शर्मा और कोच Rahul Dravid को जल्द ही कुछ जरुरी सवालों के जवाब ढूंढने होंगे.

Leave a Comment