skip to content

टीम इंडिया की कप्तानी को लेकर रविचंद्रन अश्विन ने की अपनी दिल की बात

Bihari News

अब तक भारतीय टीम के कई खिलाड़ियों के द्वारा कप्तानी की कमान संभाली जा चुकी हैं. दरअसल, कप्तानी संभालने का यह सिलसिला तब से चालू हुआ जब भारतीय टीम के धाकड़ बल्लेबाज विराट कोहली ने भारत की कप्तानी छोड़ी. तब से कई खिलाड़ियों के द्वारा भारतीय टीम की कमान संभाली जा चुकी है. लेकिन, आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इन सब में एक ऐसे खिलाड़ी भी है जिन्हें अब तक भारतीय टीम की कप्तानी की कमान संभालने का मौका नही दिया गया है. हम बात कर रहे है, टेस्ट टीम के स्थायी सदस्य दिग्गज स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के बारे में. मालूम हो कि 36 वर्षीय रवि चंद्रन अश्विन 2010 से अंतराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे हैं. लेकिन, इस दौरान उन्हें एक भी मौका ऐसा नही मिला जिसमें वे अपनी कप्तानी के हुनर को सभी के सामने दिखा सकें.बताते चले कि भारतीय टीम के नियमित कप्तान रोहित शर्मा है लेकिन जब से वे चोटिल हुए है या ब्रेक पर होने की वजह से अब तक सात खिलाड़ियों के द्वारा भारतीय टीम की कप्तानी की कमान संभाली जा चुकी है. वहीं, अगर इन सात खिलाड़ियों के नाम पर नजर डालते है तो इस लिस्ट में केएल राहुल, हार्दिक पांड्या, जसप्रीत बुमराह , ऋषभ पंत, शिखर धवन समेत 2 और खिलाड़ी शामिल है. हाल ही में भारतीय टीम की बागडोर हार्दिक पांड्या के द्वारा संभाली गयी थी. हार्दिक पांड्या ने टीम की कप्तानी श्रीलंका के खिलाफ खेले गए टी20 सीरिज में संभाली थी. जिसके बाद ऐसा माना जा रहा है कि आने वाले भविष्य में हार्दिक पांड्या को ही टीम के कप्तान के रूप में चुना जायेगा इसलिए फ़िलहाल, अभी उन्हें इसके लिए तैयार किया जा रहा है.

वहीं, हार्दिक पांड्या की नेतृत्व कौशल की सराहना खुद रविचंद्रन अश्विन के द्वारा भी किया गया है. लेकिन, वहीं दूसरी ओर उन्होंने अब तक अपने अन्दर से टीम इंडिया की कप्तानी करने की आस नही छोड़ी है. इस बात की जानकारी तब मिली जब अश्विन ने द न्यू इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत की. बता दे की उन्होंने द न्यू इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत करते हुए कहा, ” एक बार जब मैं खेलना बंद कर दूंगा तो मुझे लगता है कि मेरे पास इसका जवाब होगा. लेकिन तब तक मैं ख्वाब देखता रहूंगा. मैं मौकों का इंतजार करता रहूंगा.” इसके साथ ही उन्होंने इसी बातचीत के दौरान हार्दिक पांड्या के नेतृत्व कौशल की सराहना भी की. उन्होंने कहा, ” हार्दिक बहुत स्मार्ट क्रिकेटर है. मुझे उसके बारे में जो चीज पसंद है वो उसका चिल रहना है. वह चिल और रिलैक्स रहता है. मुझे लगता है कि यह टीम के माहौल को काफी सुकून देगा और खिलाड़ी एक यूनिट के रूप में अच्छा प्रदर्शन करेगा. ”आपकी जानकारी के लिए बता दे कि रविचंद्रन अश्विन के द्वारा वर्ष 2018 और वर्ष 2019 में खेले गए आईपीएल में पंजाब किंग्स की अगुवाई की गयी थी. लेकिन, उनका बतौर कप्तान रिकॉर्ड असरदार नही रहा. उनके नेतृत्व में पंजाब किंग्स के द्वारा कुल 28 मैच खेले गए, जिसमें से 16 मैचों में जित हासिल की गयी तो वहीं 12 मैचों में टीम को हार का सामना करना पड़ा.

Leave a Comment